भाजपा का AAP-कांग्रेस पर निशाना, कहा- एक को पंजाब की समझ नहीं तो दूसरी खत्म होने की कगार पर

भाजपा का AAP-कांग्रेस पर निशाना, कहा- एक को पंजाब की समझ नहीं तो दूसरी खत्म होने की कगार पर

अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनने पर प्रत्येक घर को हर महीने 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली देने का वादा किया। आप के नेता ने उनकी पार्टी के सत्ता में आने पर पंजाब में चौबीसों घंटे बिजली देने और लंबित बिजली बिलों को माफ करने का भी वादा किया।

अगले साल पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दल अपनी अपनी गतिविधियों को तेज करने की कोशिश में है। पंजाब में अपनी संभावनाओं को देखते हुए आम आदमी पार्टी लगातार वहां मेहनत कर रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल पिछले दिनों पंजाब दौरे पर थे जहां उन्होंने कई चुनावी घोषणाएं की। दूसरी ओर सत्ता में आने के लिए कांग्रेस लगातार मंत्रणा बैठक कर रही है। खास बात यह है कि कांग्रेस में भले ही आपसी टकराव की स्थिति है। लेकिन उसे पंजाब में सत्ता वापसी की उम्मीद है। इसी को लेकर हरियाणा के गृह मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अनिल विज ने बड़ा बयान दिया है।

पंजाब दौरे पर गए केजरीवाल के ऐलान को लेकर अनिल विज ने तंज किया है। ANI के मुताबिक अनिल विज ने कहा कि आम आदमी पार्टी को पंजाब की समस्याओं का ज्ञान नहीं। अगर वो सोचते हैं कि दिल्ली मॉडल पंजाब में लगा देंगे तो यह नहीं हो सकता है। दिल्ली में टैक्स वसूली ज्यादा है लेकिन पंजाब भुखमरी के कगार पर है। अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनने पर प्रत्येक घर को हर महीने 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली देने का वादा किया। आप के नेता ने उनकी पार्टी के सत्ता में आने पर पंजाब में चौबीसों घंटे बिजली देने और लंबित बिजली बिलों को माफ करने का भी वादा किया। कांग्रेस पर हमला करते हुए अनिल विज ने कहा कि कांग्रेस ख़त्म होने के कगार पर है। इनके सभी जगह झगड़े चल रहे हैं। डूबते जहाज से चूहें छलांग मारकर जाते हैं वैसे ही इनके नेता छलांग मारकर जा रहे हैं। यह किसी पार्टी के ख़त्म होने की पूर्व चेतावनी होती है। आपको बता दें कि पंजाब में कांग्रेस कई गुटों में बंटी हुई है। एक ओर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह है तो दूसरी ओर नवजोत सिंह सिद्धू। इसके अलावा सुनील जाखड़ और प्रताप सिंह बाजवा की भी अलग गुट है। पार्टी आलाकमान लगातार सभी गुटों को मिलाने की कोशिश में जुटा हुआ है। सिद्धू तो दिल्ली दौरे पर हैं और उनकी मुलाकात आलाकमान से हो रही है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।