भाजपा दिल्लीवासियों तक अपनी नीतियों को पहुंचाने के लिए संगठन का करेगी विस्तार

भाजपा दिल्लीवासियों तक अपनी नीतियों को पहुंचाने के लिए संगठन का करेगी विस्तार

प्रदेश कार्यालय में बुलाई गई बैठक में कई वरिष्ठ पदाधिकारी, जिलाध्यक्ष, जिला प्रभारी और सह-प्रभारी भी मौजूद रहे। इस दौरान बैजयंत पांडा ने कहा कि हमें मिलकर राजधानी में संगठन के विस्तार के लिए काम करना है और सभी लोगों तक अपनी पहुंच बनानी है

नयी दिल्ली। भाजपा राजधानी दिल्ली में ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच में अपनी पहुंच बनाने और लोगों को पार्टी की विचारधारा से जोड़ने के लिए संगठन का विस्तार करेगी। इसी विषय को लेकर दिल्ली भाजपा इकाई के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने राष्ट्रीय महामंत्री दुष्यंत गौतम के साथ विस्तृत चर्चा। इस बैठक में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा भी शामिल हुए। कहा जा रहा है कि दशकों से दिल्ली की सियासत से दूर चल रही भाजपा इस बार अपना आधार मजबूत करके अरविंद केजरीवाल को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाने की सोच के साथ आगे बढ़ेगी। पार्टी का मुख्य लक्ष्य होगा कि अगले विधानसभा चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा नेता बैजयंत पांडा कोरोना संक्रमित, संपर्क में आए लोगों से जांच कराने को कहा 

प्रदेश कार्यालय में बुलाई गई इस बैठक में कई वरिष्ठ पदाधिकारी, जिलाध्यक्ष, जिला प्रभारी और सह-प्रभारी भी मौजूद रहे। इस दौरान बैजयंत पांडा ने कहा कि हमें मिलकर राजधानी में संगठन के विस्तार के लिए काम करना है और सभी लोगों तक अपनी पहुंच बनानी है। वहीं, प्रदेशाध्यक्ष आदेश गुप्ता ने बताया कि बैठक में संगठन के विस्तार के विषय में विस्तृत चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि दिल्ली कोरोना वायरस संक्रमण और प्रदूषण जैसी जानलेवा समस्या से लड़ने में विफल रही है। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा ने राज्यसभा उपचुनाव के लिए सुशील कुमार मोदी को बनाया उम्मीदवार 

28 नए विभागों को होगा गठन

मिली जानकारी के मुताबिक, प्रदेश की अरविंद केजरीवाल सरकार के खिलाफ लड़ाई को और गति देने के लिए भाजपा 28 नए विभाग बनाएगी और इन विभागों में पार्टी कार्यकर्ताओं को शामिल किया जाएगा। इस बीच आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सरकार की नाकामियों को उजागर करने का भी काम किया जाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।