बोरिस जॉनसन बने ब्रिटेन के नए PM, देश को एकजुट करने, ब्रेग्जिट को अंजाम देने का किया वायदा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 23 2019 6:49PM
बोरिस जॉनसन बने ब्रिटेन के नए PM, देश को एकजुट करने, ब्रेग्जिट को अंजाम देने का किया वायदा
Image Source: Google

भारतीय मूल के सांसदों-प्रीति पटेल और ऋषि सुनाक सहित जॉनसन के कई समर्थकों और ब्रेग्जिटियर्स को मंत्री पद मिलने की उम्मीद है। टेरेसा मे ने मंगलवार को डाउनिंग स्ट्रीट में अपनी अंतिम कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता की।

लंदन। यूरोपीय संघ से अलग होने के मुद्दे पर जारी राजनीतिक अनिश्चितता के बीच बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को कंजर्वेटिव पार्टी की नेतृत्व दौड़ में बाजी मार ली और वह देश के नए प्रधानमंत्री चुन लिए गए। यह पहले से ही उम्मीद जताई जा रही थी कि पूर्व विदेश मंत्री एवं लंदन के पूर्व मेयर जॉनसन 10 डाउनिंग स्ट्रीट की लड़ाई में विदेश मंत्री जेरेमी हंट को हरा देंगे। पार्टी के नेतृत्व और प्रधानमंत्री पद की दौड़ पिछले महीने तब शुरू हुई थी जब ब्रेग्जिट मुद्दे पर कंजर्वेटिव पार्टी में बढ़ती बगावत के चलते टेरेसा मे ने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। 



 
परिणाम की घोषणा के तुरंत बाद संसद भवन के पास क्वीन एलिजाबेथ ।। सेंटर में टोरी पार्टी के सदस्यों को संबोधित करते हुए 55 वर्षीय जॉनसन ने कहा, ‘‘मंत्र ब्रेग्जिट को संभव कर दिखाने, देश को एकजुट करने और जेरेमी कोरबिन (लेबर नेता) को हराने का है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपकी विश्वास बहाली के लिए काम करूंगा। काम अब शुरू होता है।’’ सांसद एवं टोरी पार्टी की ‘1922 समिति’ की सह-अध्यक्ष चेरिल गिलान ने लिफाफा खोला और घोषणा की कि जॉनसन को 92,153वोट मिले हैं, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी हंट को 46,656 वोट मिले हैं। नया नेता चुनने के लिए टोरी पार्टी के 87.4 सदस्यों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। 509 वोट खारिज कर दिए गए। जॉनसन के बुधवार को प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभालने की उम्मीद है। नए प्रधानमंत्री अपना मंत्रिमंडल चुनने के वास्ते कुछ समय ले सकते हैं।  


भारतीय मूल के सांसदों-प्रीति पटेल और ऋषि सुनाक सहित जॉनसन के कई समर्थकों और ब्रेग्जिटियर्स को मंत्री पद मिलने की उम्मीद है। टेरेसा मे ने मंगलवार को डाउनिंग स्ट्रीट में अपनी अंतिम कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता की। बुधवार को वह हाउस ऑफ कॉमन्स में प्रधानमंत्री संबंधी अंतिम चर्चा में शामिल होंगी। उसके बाद वह महारानी को अपना इस्तीफा सौंपने बकिंघम पैलेस जाएंगी। इसके बाद 93 वर्षीय महारानी नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री जॉनसन को सरकार के गठन का आमंत्रण देंगी। इसके बाद जॉनसन प्रधानमंत्री के रूप में डाउनिंग स्ट्रीट में बुधवार की शाम अपना पहला संबोधन देंगे। नए प्रधानमंत्री बृहस्पतिवार की सुबह अपनी पहली कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इसके बाद ब्रिटिश संसद की गर्मी की छुट्टियां शुरू हो जाएंगी जो सितंबर के शुरू तक रहेंगी।

 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप