राफेल मामले पर बोली माकपा ने लगाया कैग रिपोर्ट लीक होने का आरोप

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Feb 12 2019 3:44PM
राफेल मामले पर बोली माकपा ने लगाया कैग रिपोर्ट लीक होने का आरोप
Image Source: Google

माकपा के लोकसभा सदस्य मोहम्मद सलीम ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि राफेल खरीद मामले में कैग की रिपेार्ट पेश किये जाने की चर्चा थी। लेकिन यह रिपोर्ट सदन में पेश नहीं की गयी।

नयी दिल्ली। माकपा ने लड़ाकू विमान राफेल पर नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट के संसद में पेश होने से पहले, इसके कुछ अंश समाचार चैनलों पर प्रसारित होने पर सवाल खड़े करते हुये रिपेार्ट के लीक होने का आरोप लगाया है। माकपा के लोकसभा सदस्य मोहम्मद सलीम ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि राफेल खरीद मामले में कैग की रिपेार्ट पेश किये जाने की चर्चा थी। लेकिन यह रिपोर्ट सदन में पेश नहीं की गयी। उन्होंने कहा कि इस बीच कुछ समाचार चैनलों पर इस रिपोर्ट से जुड़ी खबरें प्रसारित की गयीं। सलीम ने कहा कि कैग रिपोर्ट सबसे पहले संसद के समक्ष पेश किया जाना संसदीय विशेषाधिकार है। 

इसे भी पढ़ें: CAG रिपोर्ट को राहुल ने बताया चौकीदार ऑडिटर जनरल रिपोर्ट

उन्होंने कहा कि मुझे नहीं मालूम कि संसद की पहुंच से दूर रही कैग रिपोर्ट समाचार चैनलों तक कैसे पहुंच गयी। इसका सरकार के पास भी कोई जवाब नहीं है। सलीम ने सरकार पर आधिकारिक आंकड़ों के एकत्रीकरण और प्रकाशन की व्यवस्था को नष्ट करने का आरोप लगाते हुये कहा कि सरकार के आंकड़ों की जांच करने वाली प्राक्कलन समिति की बैठक पिछले साल अक्तूबर से ही नहीं हुयी है। बजट प्रस्ताव पर वित्त मंत्री के जवाब में भी सत्तापक्ष की ओर से रोजगार सहित विभिन्न मुद्दों पर आंकड़ों की बात नहीं की गयी। 

उन्होंने राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण संगठन की तर्ज पर प्राक्कल समिति को भी निष्क्रिय बनाने का आरोप लगाते हुये कहा कि सरकार सिर्फ अकड़ की बात करती हैं, आंकड़ों की नहीं। सलीम ने कहा कि अब यह देखने वाली बात होगी कि पांच साल से आंकड़े एकत्र नहीं होने की बात कह चुकी सरकार बजट सत्र के अंतिम दिन बुधवार को राफेल मामले पर कैग की रिपोर्ट संसद में पेश करती है या नहीं।

इसे भी पढ़ें: CAG का राफेल की जानकारी देने से इनकार, कहा- संसद का विशेषाधिकार हनन होगा



आप संयोजक अरविंद केजरीवाल द्वारा विपक्ष की एकजुटता के लिये बुधवार को दिल्ली में आयोजित रैली में माकपा के शामिल होने के सवाल पर सलीम ने कहा कि उन्हें रैली के मकसद सहित अन्य तथ्यों की जानकारी नहीं है। उल्लेखनीय है कि केजरीवाल की रैली में तेदेपा अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू और तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी सहित विपक्षी दलों के अन्य नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video