• सिद्धू की माफी पर अड़े कैप्टन के तेवर एक फोन कॉल के बाद पड़े नरम, नये प्रदेश अध्यक्ष की ताजपोशी में होंगे मौजूद

अभिनय आकाश Jul 22, 2021 20:20

कैप्टन अमरिंदर सिंह को नवजोत सिंह सिद्धू का साइन किया गया इन्विटेशन लेटर सौंपा है। पंजाब सीएम के सलाहकार ने ट्विटर पर ऐलान करते हुए कहा कि कल सुबह 10 बजे सभी विधायकों और सांसदों को चाय पर बुलाया है। इसके बाद सभी लोग प्रदेश कांग्रेस कार्यलय जाएंगे।

पंजाब में कांग्रेस की कलह अब थमती हुई नजर आने लगी है। नवजोत सिंह सिद्धू 23 जुलाई को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष का काम-काज संभालेंगे। सिद्धू की ताजपोशी को लेकर पंजाब कांग्रेस में बड़े समारोह की तैयारी की गई है। लेकिन सवाल ये था कि क्या कैप्टन अमरिंदर सिंह भी इसमें शामिल होंगे। जिसके पीछे की वजह थी कि कैप्टन की ओर से लगातार ये दावा किया जा रहा था कि जब तक सिद्धू अमरिंदर सिंह के खिलाफ किए गए ट्विट को लेकर माफी नहीं मांगेंगे तक तक पंजाब सीएम नये प्रदेश अध्यक्ष से मुलाकात भी नहीं करेंगे। इसी बीच सिद्धू कैंप की ओर से दावा किया गया कि उन्होंने अमरिंदर सिंह से मुलाकात का समय मांगा है, लेकिन इस दावे को अमरिंदर कैंप ने सिरे से खारिज कर दिया। लेकिन अब कल होने वाले कार्यक्रम को लेकर पंजाब कांग्रेस कमेटी के वर्किंग प्रेसिडेंट कुलजीत नागरा और संगत सिंह गिलजियां ने मोहाली के सिसवां स्थित कैप्टन अमरिंदर सिंह के फार्म हाउस में उनसे मुलाकात की।

इसे भी पढ़ें: 23 जुलाई को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष का पद संभालेंगे सिद्धू, कैप्टन को भी भेजा न्योता

दोनों ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को नवजोत सिंह सिद्धू का साइन किया गया इन्विटेशन लेटर सौंपा है। कैप्टन को न्यौता सौंपने के बाद उन्होंने दावा किया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भरोसा दिलाया है कि वे नवजोत सिंह सिद्धू की ताजपोशी वाले कार्यक्रम में उपस्थित होंगे। इधर कांग्रेस नेताओं ने कैप्टन से मुलाकात के बाद उनके कार्यक्रम में शिरकत के दावे किए और उधर पंजाब सीएम के सलाहकार ने ट्विटर पर ऐलान करते हुए कहा कि कल सुबह 10 बजे सभी विधायकों और सांसदों को चाय पर बुलाया है। इसके बाद सभी लोग प्रदेश कांग्रेस कार्यलय जाएंगे। 

इस वजह से राजी हुए कैप्टन 

बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू की ताजपोशी वाला यह कार्यक्रम 23 जुलाई (शुक्रवार) को सुबह 11 बजे होगा, जिसमें सुनील जाखड़ नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद की कमान सौंपेंगे। इस खबर के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि अब तक सिद्धू की माफी पर अड़े कैप्टन के तेवर नरम पड़ते दिख रहे हैं और दोनों के बीच की तल्खी कम हो जाएगी। वहीं मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि कैप्टन अमरिंदर आलाकमान के फोन कॉल के बाद सिद्धू की ताजपोशी वाले कार्यक्रम में शिरकत करने को राजी हुए हैं। एबीपी न्यूज ने अपने मीडिया रिपोर्ट में दावा किया है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को फोन करके उनसे बात की। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार प्रियंका ने कैप्टन से मुख्यमंत्री होने के नाते सिद्धू की ताजपोशी वाले कार्यक्रम में मौजूद होने को कहा। इसके साथ ही प्रियंका की तरफ से कहा गया कि उनके इस कार्यक्रम में मौजूद नहीं होने से गलत संदेश जाएगा। मीडिया रिपोर्ट में सोनिया गांधी के भी इस मौके पर अपना संदेश भेजे जाने का जिक्र प्रियंका द्वारा कैप्टन अमरिंदर को कहे जाने की बात की गई है।