भ्रामक सामग्री प्रसारित करने पर पांच यूट्यूब चैनल के खिलाफ मुकदमा दर्ज

YouTube
Creative Common Licences.
अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सूरज राज ने रविवार को बताया कि पांच यूट्यूब चैनल पर भारतीय दंड विधान तथा सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि इन यूट्यूब चैनल पर वर्ष 2017 की एक घटना को वर्ष 2022 की बताकर प्रसारित किया गया है।

सहारनपुर (उप्र)|  भ्रामक सामग्री अपलोड करने के आरोप में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में पांच यूट्यूब चैनल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सूरज राज ने रविवार को बताया कि पांच यूट्यूब चैनल पर भारतीय दंड विधान तथा सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोप है कि इन यूट्यूब चैनल पर वर्ष 2017 की एक घटना को वर्ष 2022 की बताकर प्रसारित किया गया है।

अधिकारी ने बताया कि जिला पुलिस ने ट्वीट कर लोगों से अपील की है कि वे अफवाहों पर ध्यान ना दें। उन्होंने कहा कि अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़