कुशल नेतृत्व देने के लिए विपक्ष शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को मोदी का आभारी होना चाहिए: फडणवीस

कुशल नेतृत्व देने के लिए विपक्ष शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को मोदी का आभारी होना चाहिए: फडणवीस

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस ओर अन्य विपक्षी दलों पर हमला करते हुए कहा कि उसके नेताओं और मुख्यमंत्रियों ने पहले तो कोरोना रोधी टीकों और उनके प्रभावोत्पादकता को लेकर सवाल उठाए और अब टीकारकरण को लेकर हाय-तौबा मचा रहे हैं।

नयी दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस ने शुक्रवार को कहा कि कोरोना जैसी महामारी के दौरान देश को कुशल नेतृत्व देने के लिए विपक्षी दलों की सरकार द्वारा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभारी होना चाहिए। उन्होंने कहा कि संकट की घड़ी में प्रधानमंत्री ने आगे बढ़कर देश का नेतृत्व किया और विपक्ष शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की तरह जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटे। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस ओर अन्य विपक्षी दलों पर हमला करते हुए कहा कि उसके नेताओं और मुख्यमंत्रियों ने पहले तो कोरोना रोधी टीकों और उनके प्रभावोत्पादकता को लेकर सवाल उठाए और अब टीकारकरण को लेकर हाय-तौबा मचा रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: चक्रवात के कारण एक करोड़ लोग प्रभावित, तीन लाख मकान क्षतिग्रस्त: ममता बनर्जी

उन्होंने कहा, ‘‘यह केंद्र और प्रधानमंत्री मोदी ही थे जिन्होंने पहले दिन से लोगों को टीका लगवाने के लिए आग्रह करते रहे। इसके विपरीत विपक्ष शासित मुख्यमंत्रियों और विपक्षी दलों के नेताओं ने महामारी के दौर में गंदी राजनीति की और टीकों को लेकर भ्रम पैदा करते रहे। अब यही लोग अधिक टीकों की मांग कर रहे हैं।’’ स्वास्थ्य को राज्य का विषय बताते हुए फडणवीस ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि महामारी के दौरान भी विपक्ष शासित राज्यों के मुख्यमंत्री अपनी जिम्मेदारियों से भागते रहे और ठीकरा केंद्र पर फोडते रहे। उन्होंने कहा, ‘‘महामारी का सामने से मुकाबला करने के बजाय विपक्षी दलों के मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री की आलोचना करने में व्यस्त थे...लेकिन प्रधानमंत्री ने इन राजनीतिक आरोपों में ना पड़ते हुए संकट को संभालने का काम किया। मुख्यमंत्रियों, खासकर विपक्ष शासित राज्यों के, को संकट के इस समय उनके कुशल नेतृत्व और मदद पहुंचाने के लिए आभारी होना चाहिए।’’ 

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री को करना पड़ा 30 मिनट का इंतजार, नड्डा और राजनाथ ने साधा ममता पर निशाना

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन तथा अन्य कोविड-19 के कुप्रबंधन को लेकर लगातार केंद्र सरकार की आलोचना और प्रधानमंत्री पर हमले करते रहे हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।