मुख्यमंत्री योगी ने महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज का किया निरीक्षण, बोले- 2021-22 में 14 और बनेंगे

मुख्यमंत्री योगी ने महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज का किया निरीक्षण, बोले- 2021-22 में 14 और बनेंगे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नेशनल मेडिकल काउंसिल के निरीक्षण के साथ जैसे ही अनुमोदन प्राप्त होगा, उसके बाद प्रधानमंत्री से प्रदेश के 9 मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ करवाएंगे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देवरिया ज़िले में महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने वृक्षारोपण भी किया। उन्होंने कहा कि महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज इस सत्र में प्रवेश के लिए तैयार है। पहले सत्र के लिए मेडिकल कॉलेज को तैयार किया जा चुका है। 

इसे भी पढ़ें: राहुल ने किया आम के स्वाद पर भी उत्तर-दक्षिण का बंटवारा, योगी ने कहा- आपका टेस्ट ही विभाजनकारी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नेशनल मेडिकल काउंसिल के निरीक्षण के साथ जैसे ही अनुमोदन प्राप्त होगा, उसके बाद प्रधानमंत्री से प्रदेश के 9 मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ करवाएंगे। जो प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा के अंतर्गत और प्रदेश के संसाधन से भी तैयार हो रहे हैं। आज से 5-7 साल पहले कोई कल्पना भी नहीं करता था कि देवरिया में भी कोई मेडिकल कॉलेज होगा। लेकिन हम सब प्रधानमंत्री मोदी जी के आभारी हैं। जिन्होंने बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए देश के भीतर एक अभियान शुरू किया।

उन्होंने कहा कि 1947 से 2016 तक कुल 12 सरकारी मेडिकल कॉलेज उत्तर प्रदेश में बने थे। जबकि वर्तमान में उत्तर प्रदेश सरकार, केंद्र सरकार के सहयोग से लगभग 32 मेडिकल कॉलेज 2016 से लेकर 2020-21 के बीच में स्थापित किया और उन्हें स्वीकृति दी।

उन्होंने बताया कि 2021-22 के लिए 14 नए मेडिकल कॉलेजों को बनाया जाएगा। जिसकी स्वीकृति दी जा चुकी है और बजट का प्रावधान भी किया जा चुका है। इसके साथ मेडिकल कॉलेज का कार्य भी शुरू हो चुका है। इसके अलावा प्रदेश में 16 जनपद ऐसे हैं जहां पर मेडिकल कॉलेज नहीं हैं। जिनमें महाराजगंज, संत कबीर नगर, बलिया इत्यादि नाम शामिल हैं। 

इसे भी पढ़ें: बेरोजगारी के मुद्दे की हवा निकालने में जुटी योगी सरकार, बनाना चाहती है नौकरी देने का रिकॉर्ड 

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी 75 ज़िले मेडिकल कॉलेज से आच्छादित होंगे। इसके अलावा हमने पिछले वर्ष 2 एम्स का शुभारंभ किया है। गोरखपुर और रायबरेली के एम्स बनकर तैयार होने जा रहे हैं। गोरखपुर एम्स का उद्घाटन प्रधानमंत्री के कर कमलों से हम लोगों ने अक्टूबर में प्रस्तावित किया है।

यहां सुने पूरा भाषण:-





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।