गठबंधन की सरकार बनी तो सप्ताह में प्रत्येक दिन अलग-अलग नेता प्रधानमंत्री बनेंगे : शाह

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 18 2019 6:16PM
गठबंधन की सरकार बनी तो सप्ताह में प्रत्येक दिन अलग-अलग नेता प्रधानमंत्री बनेंगे : शाह
Image Source: Google

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘मैं बताता हूं इसके लिए उनके पास क्या योजना है। सोमवार को शरद पवार प्रधानमंत्री बनेंगे, मंगलवार को मायावती प्रधानमंत्री होंगी, बुधवार को अखिलेश यादव होंगे, गुरुवार को देवगौड़ा होंगे, शुक्रवार को स्टालिन होंगे, शनिवार को ममता दीदी होंगी और रविवार को देश छुट्टी पर चला जाएगा।

तखतपुर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को कांग्रेस के नेतृत्व वाले गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा कि यदि उसकी सरकार आएगी तब सप्ताह के प्रत्येक दिन अलग-अलग नेता प्रधानमंत्री बनेंगे। शाह ने आज बिलासपुर जिले के तखतपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि इस चुनाव में दो धड़े स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहे हैं। एक तरफ एनडीए के साथी हैं जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में है, तो दूसरी ओर महामिलावट गठबंधन खड़ा है, जो राहुल बाबा एंड कंपनी का है। उन्होंने कहा, ‘‘ मैं उनसे पूछता हूं कि यदि गलती से आपका गठबंधन आ गया तो आप का प्रधानमंत्री कौन बनेगा। उनके पास इसका जवाब नहीं है।’’ 

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने हिन्दू आतंकवाद की बात करके भारत की छवि खराब की है: अमित शाह

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘मैं बताता हूं इसके लिए उनके पास क्या योजना है। सोमवार को शरद पवार प्रधानमंत्री बनेंगे, मंगलवार को मायावती प्रधानमंत्री होंगी, बुधवार को अखिलेश यादव होंगे, गुरुवार को देवगौड़ा होंगे, शुक्रवार को स्टालिन होंगे, शनिवार को ममता दीदी होंगी और रविवार को देश छुट्टी पर चला जाएगा। क्या इस तरह से देश चलता है।’’ शाह ने कहा कि पूछा जाता है कि मोदी सरकार ने इस पांच वर्ष के शासन में क्या किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने देश के भीतर 50 करोड़ लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने का काम किया है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार ने देश को सुरक्षित रखने का काम किया है। इससे पहले 10 साल तक सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह की यूपीए की सरकार थी। इस दौरान पाकिस्तान से आए आतंकवादी जब चाहे तब देश में घुस जाते थे और जवानों का सर काट लेते थे और उन्हें अपमानित करते थे। 

इसे भी पढ़ें: सत्ता में आने पर 90 दिन के भीतर चिटफंड के दोषियों को भेजेंगे जेल: शाह



उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार में आतंकवादियों ने जब पुलवामा पर हमला किया और 40 जवान शहीद हो गए तब सबके मन में गुस्सा था। देश की सेना पहले सर्जिकल स्ट्राइक कर चुकी थी। पाकिस्तान की सेना ने जमीन पर टैंक लगा दिया तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वायु सेना को आदेश दिया और वायु सेना ने पाकिस्तान के घर में घुसकर बालाकोट में आतंकवादियों के अड्डे को तहस-नहस कर दिया। घटना होने के बाद दो जगह पर मातम छा गया एक पाकिस्तान में और दूसरा राहुल बाबा एंड कंपनी के कार्यालय में। पाकिस्तान को तकलीफ हुई वह स्वाभाविक था, लेकिन आपको क्यों तकलीफ हुई, क्या वह आप के चचेरे भाई लगते थे। 

इसे भी पढ़ें: गुजरात की रैलियों में राहुल और आजम खान पर जमकर बरसे भाजपा अध्यक्ष शाह

वहीं सैम पित्रोदा ने कहा था उनसे बातचीत करनी चाहिए। जो 40 जवानों को शहीद करे उससे बातचीत करना चाहिए कि बम गिराना चाहिए। भारतीय जनता पार्टी की सरकार आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाएगी। शाह ने कहा कि यहां नरेंद्र मोदी की सरकार है। इस सरकार में ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा। पाकिस्तान को कोई जवाब दे सकता है तो केवल और केवल एक व्यक्ति दे सकता है, हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही दे सकते हैं। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video