J&K में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, गुलाम नबी आजाद के भतीजे ने थामा भाजपा का दामन

J&K में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, गुलाम नबी आजाद के भतीजे ने थामा भाजपा का दामन
प्रतिरूप फोटो

गुलाम नबी आजाद के भतीजे मुबशिर आज़ाद ने कहा कि वह जम्मू-कश्मीर और केंद्र में वर्तमान कांग्रेस नेतृत्व द्वारा अपने चाचा पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आज़ाद के अपमान से बहुत आहत हैं। कांग्रेस के करिश्माई नेताओं में से एक गुलाम नबी आजाद के साथ पार्टी ने जिस तरह से व्यवहार किया उससे जनता की भावनाओं को ठेस पहुंची है।

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। आपको बता दें कि कांग्रेस के गढ़ माने जाने वाले डोडा, किश्तलाड़ और रामबन जिले में भाजपा ने बड़ी सेंधमारी करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के भतीजे मुबशिर आजाद को पार्टी में शामिल करा लिया। मुबशिर आजाद ने त्रिकुटा नगर स्थित भाजपा मुख्यालय में अपने समर्थकों संग भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर के पुंछ में एलओसी के निकट भारी मात्रा में हेरोइन बरामद : अधिकारी 

जम्मू-कश्मीर भाजपा अध्यक्ष रविंदर रैना ने पूर्व विधायक दलीप परिहार और भाजपा एसटी मोर्चा के अध्यक्ष हारून चौधरी के साथ मुबशर आजाद का स्वागत किया, जो लंबे समय से कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ जुड़े हुए थे। रविंदर रैना ने मुबशर आज़ाद के साथ-साथ पार्टी में अन्य नए लोगों का स्वागत करते हुए कहा कि कांग्रेस, नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी जैसी पार्टियों ने सत्ता की विलासिता का आनंद लेने के अलावा कुछ नहीं समझा।

उन्होंने कहा कि यह केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार थी, जिसने यह सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त कदम उठाए कि जम्मू-कश्मीर में बुनियादी स्तर पर लोकतंत्र को मजबूत किया जाए और यहां रहने वाले हर समुदाय को अधिकार दिया जाए। उन्होंने कहा कि भाजपा नेतृत्व की नीतियों की सभी सराहना कर रहे हैं और यही कारण है कि लगभग दैनिक, सक्रिय सामाजिक और राजनीतिक हस्तियां जनता की सेवा के लिए पार्टी को गले लगाने के लिए आगे आ रही हैं। 

इसे भी पढ़ें: कश्मीर में बर्फबारी से जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग बंद, वाहन फंसे, हवाई यातायात में देरी, ट्रेन सेवा निलंबित 

मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए मुबशिर आज़ाद ने कहा कि वह जम्मू-कश्मीर और केंद्र में वर्तमान कांग्रेस नेतृत्व द्वारा अपने चाचा पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आज़ाद के अपमान से बहुत आहत हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के करिश्माई नेताओं में से एक गुलाम नबी आजाद के साथ पार्टी ने जिस तरह से व्यवहार किया उससे आम जनता की भावनाओं को ठेस पहुंची है। उन्होंने जोर देकर कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी ने पूर्व मुख्यमंत्री के प्रयासों को मान्यता दी है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के भीतर पूरी तरह से स्वार्थी अंतर्कलह है। जबकि प्रधानमंत्री मोदी ने आम जनता का विश्वास हासिल किया है। इस प्रकार हम समाज और राष्ट्र के हित में प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा के साथ खड़े होने का संकल्प लेते हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...