पूर्वोत्तर की संस्कृति, इतिहास और भाषा की रक्षा करेगी कांग्रेस: राहुल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 26, 2019   16:37
पूर्वोत्तर की संस्कृति, इतिहास और भाषा की रक्षा करेगी कांग्रेस: राहुल

गांधी ने विश्वास जताया कि कांग्रेस केन्द्र की सत्ता में लौटेगी और क्षेत्र की पहचान की रक्षा करने के लिए काम करेगी। उन्होंने असम का ‘विशेष दर्जा’ बहाल करने और पूर्वोत्तर औद्योगिक और निवेश प्रोत्साहन नीति (एनईआईआईपीपी) वापस लाने का वादा किया।

गुवाहाटी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि सत्ता में आने पर उनकी पार्टी पूर्वोत्तर की संस्कृति, इतिहास और भाषा की रक्षा करेगी। असम में चुनाव प्रचार शुरू करते हुए गांधी ने भाजपा और आरएसएस पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि वे क्षेत्र के प्रत्येक राज्य को आग में झोंक रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा-आरएसएस की विचारधारा पूर्वोत्तर के प्रत्येक राज्य को जला रही है। वे आपकी जीवन शैली, संस्कृति, भाषा और इतिहास पर हमला कर रहे हैं।’’ गांधी ने विश्वास जताया कि कांग्रेस केन्द्र की सत्ता में लौटेगी और क्षेत्र की पहचान की रक्षा करने के लिए काम करेगी। उन्होंने असम का ‘विशेष दर्जा’ बहाल करने और पूर्वोत्तर औद्योगिक और निवेश प्रोत्साहन नीति (एनईआईआईपीपी) वापस लाने का वादा किया।

इसे भी पढ़ें: किरेन रिजिजू का राहुल पर बड़ा हमला, कहा- नहीं जानते शहीद की परिभाषा

गांधी ने जोर देते हुए कहा कि भाजपा ने पूर्वोत्तर के लोगों के अधिकार छीन लिए हैं। हम उन्हें बहाल करने के लिए सबकुछ करेंगे। असम के चाय बागान क्षेत्र में हालिया शराब त्रासदी पर शोक जताते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी ने चाय बागानों के लिये बड़ी घोषणा की थी, लेकिन कुछ भी नहीं किया। हम हर चाय बागान कर्मी के लिये न्यूनतम मजदूरी की गारंटी देंगे।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।