कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट, हरियाणा में 414 तो पंजाब में 215 नए केस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 30, 2020   08:34
कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट, हरियाणा में 414 तो पंजाब में 215 नए केस

अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा में कुल मामले 2,61,672 हो गए हैं और मृतक संख्या 2892 पहुंच गई है। हरियाणा सरकार ने स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया कि राज्य में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 3900 है जबकि 2,54,880 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं।

चंडीगढ़। हरियाणा में मंगलवार को कोरोना वायरस के 414 नए मामले आए वहीं 10 और संक्रमितों की मौत हो गई। वहीं पड़ोसी राज्य पंजाब में संक्रमण के 215 नए मरीजों की पुष्टि हुई जबकि 11 संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में कोविड-19 के 64 नए मरीजों की पुष्टि हुई। अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा में कुल मामले 2,61,672 हो गए हैं और मृतक संख्या 2892 पहुंच गई है। हरियाणा सरकार ने स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया कि राज्य में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 3900 है जबकि 2,54,880 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में कोरोना संक्रमण के 703 नए मामले, 28 और मरीजों ने गंवाई अपनी जान

पंजाब सरकार ने स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया है कि राज्य में कुल मामले 1,65,878 तक पहुंच गए हैं जबकि मृतक संख्या 5322 हो गई है। बुलेटिन के मुताबिक, पंजाब में 3837 मरीज संक्रमण का इलाज करा रहे हैं जबकि 1,56,719 मरीज संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। दोनों राज्यों की राजधानी और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ के स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिन में बताया कि प्रदेश में कुल मामले 19,615 पहुंच गए हैं। यहां 316 संक्रमितों की मौत हुई हैं। हालांकि पिछले 24 घंटे में किसी भी संक्रमित ने दम नहीं तोड़ा है। बुलेटिन के मुताबिक, चंडीगढ़ में 362 लोग संक्रमण का इलाज करा रहे हैं जबकि 18937 मरीज संक्रमण से उबर चुके हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।