कोरोना के खिलाफ जारी जंग में भारत ने हासिल किया एक नया मुकाम, एक दिन में 1.9 करोड़ लोगों को लगा टीका

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 31, 2021   22:17
कोरोना  के खिलाफ जारी जंग में भारत ने हासिल किया एक नया मुकाम, एक दिन में 1.9 करोड़ लोगों को लगा टीका

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत कोरोना का जोरदार ढंग से मुकाबला कर रहा है।’’ भारत को 10 करोड़ खुराक तक पहुंचने में 85 दिन लगे। उसे 20 करोड़ के आंकड़े तक पहुंचने में45 दिन एवं 30 करोड़ तक पहुंचने में और 29 दिन लगे।

नयी दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश में पांच दिनों में दूसरी बार शनिवार को कोविड-19 रोधी टीकों की एक करोड़ से अधिक खुराक दी गयी हैं और अबतक कुल 65 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बताया कि शाम छह बजे तक एक दिन में सर्वाधिक 1.09 करोड़ खुराक लगाने का रिकार्ड हासिल किया गया तथा 50 करोड़ लोग पहली खुराक ले चुके हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तहत एक अन्य उपलब्धि हासिल की गयी। 50 करोड़ लोग कोविड 19 रोधी टीके की पहली खुराक ले चुके हैं। इस उपलब्धि को हासिल करने में मदद पहुंचाने के लिए कोविड योद्धाओं और लोगों की लगन की तारीफ करता हूं।’’

इसे भी पढ़ें: भारत में कोरोना वायरस के 45,083 नए मामले, 460 और लोगों की मौत

उन्होंने लिखा, ‘‘ बधाई, भारत ने आज कोविड 19 रोधी टीके की एक करोड़ खुराक लगायी। शाम छह बजे तक 1.09 करोड़ खुराक लगाने का एक दिन का सर्वाधिक रिकार्ड --गिनती अभी जारी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत कोरोना का जोरदार ढंग से मुकाबला कर रहा है।’’ भारत को 10 करोड़ खुराक तक पहुंचने में 85 दिन लगे। उसे 20 करोड़ के आंकड़े तक पहुंचने में45 दिन एवं 30 करोड़ तक पहुंचने में और 29 दिन लगे। देश को 40 करोड़ के आंकड़े तक पहुंचने में बाद के 24 दिन तथा छह अगस्त को 50 करोड़ का आंकडा पार करने के लिए 20 और दिन लगे। उसने 25 अगस्त को 60 करोड़ का आंकड़ा पार करने के लिए 19 दिन और लिये। देश में 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था और इसकी शुरुआत स्वास्थ्यकर्मयों से की गयी थी। फिर उसमें दो फरवरी से अग्रिम मोर्चा कर्मी शामिल किये गये। एक मार्च से अगले चरण में 60 साल के ऊपर के तथा अन्य गंभीर बीमारी से ग्रसित 45 साल के ऊपर के लोग शामिल किये गये। एक अप्रैल से इस अभियान में 45 साल से ऊपर के सभी लोगों को जोड़ लिया गया।फिर एक मई को टीकाकरण का विस्तार करके सरकार ने 18 साल से ऊपर के सभी व्यक्तियों को टीका लगाने का फैसला किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।