• मेघालय के कुछ गांवों में जमीन में से निकल रहा कच्चा तेल, कांग्रेस विधायक ने जांच कराने का किया आग्रह

कांग्रेस विधायक हिमा शांगपलिआंग ने कहा, “ लोगों ने बताया है कि (उनके निर्वाचन क्षेत्र) मौसिनराम के कुछ गांवों में जमीन में से कच्चा तेल निकल रहा है।”

शिलांग। कांग्रेस के एक विधायक ने मेघालय विधानसभा को बुधवार को बताया कि उनके निर्वाचन क्षेत्र के कुछ लोग दावा कर रहे हैं कि भारत-बांग्लादेश सीमा पर स्थित कुछ गांवों की जमीन में से कच्चा तेल निकल रहा है। उन्होंने सरकार से मामले की जांच कराने का आग्रह किया। विधानसभा में पेट्रोल-डीजल की कीमतों के नियमन पर आम चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायक हिमा शांगपलिआंग ने कहा, “ लोगों ने बताया है कि (उनके निर्वाचन क्षेत्र) मौसिनराम के कुछ गांवों में जमीन में से कच्चा तेल निकल रहा है।” 

इसे भी पढ़ें: Crude Oil की कीमतों में उछाल, क्या देश में पेट्रोल-डीजल के दाम और बढेंगे? 

विधायक ने सरकार से मामले की जांच कराने और लोगों के दावे की सच्चाई का पता लगाने का अनुरोध किया। साथ में यह भी आग्रह किया कि सरकार देखे कि क्या मेघालय देश में तेल उत्पादक राज्यों की फहरिस्त में शामिल हो सकता है या नहीं। अपने जवाब में कपड़ा मंत्री जेम्स पीके संगमा ने कहा, “ यह केंद्र सरकार का मामला है। खोज केंद्र सरकार करती है। हम तथ्य का सत्यापन करने के बाद (केंद्र सरकार को) सूचित कर देंगे।” बाद में शांगपलिआंग ने पीटीआई-से कहा कि उमलिंटर और वेईसोहपिआंग इलाकों के लोग दावा कर रहे हैं कि जमीन से कच्चा तेल निकल रहा है। उन्होंने कहा, “ कुछ ग्रामीणों ने तेल को बाल्टियों में इकट्ठा कर लिया है और उसका इस्तेमाल कर रहे हैं।