क्या ग्लोबल हॉटस्पॉट बनने की राह पर है राजधानी? कोरोना के 3,947 नए केस के साथ मुंबई से आगे निकली दिल्ली

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 25, 2020   11:56
क्या ग्लोबल हॉटस्पॉट बनने की राह पर है राजधानी? कोरोना के 3,947 नए केस के साथ मुंबई से आगे निकली दिल्ली

कोरोना वायरस संक्रमण से अभी तक कुल 2,365 लोगों की मौत हुई है जबकि अभी तक कुल 70,390 लोग इस वायरस से संक्रमित हुए हैं। बुलेटिन के अनुसार फिलहाल अस्पतालों में कार्यरत सीनियर रेसीडेंट और जूनियर रेसीडेंट डॉक्टरों को छह महीने के कार्य विस्तार का आदेश जारी किया गया है।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में 3,788 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के साथ ही दिल्ली में कोविड-19 के मामले 70,000 के पार चले गए जबकि शहर में अभी तक इस संक्रमण से 2,365 लोग की मौत हुई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। इसी के साथ दिल्ली इस वायरस से बुरी तरह प्रभावित मुम्बई से आगे निकल गयी। मुम्बई में मंगलवार को कोविड-19 संक्रमण के कुल मामले 68,410 थे। मंगलवार को एक दिन में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा 3,947 नए मामले सामने आए थे। शुक्रवार-शनिवार से राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के 3000 या उससे अधिक नये मामले रोज आ रहे हैं। सोमवार को 2909 नये मरीज सामने आये थे। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को एक बुलेटिन में बताया कि पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 64 मरीजों की मौत हो चुकी है। इस महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या मंगलवार को 2,301 थी।

इसे भी पढ़ें: देश में थम नहीं रहा कोरोना का कहर, एक दिन में सर्वाधिक 16,922 नए मामले आए

बुलेटिन के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण से अभी तक कुल 2,365 लोगों की मौत हुई है जबकि अभी तक कुल 70,390 लोग इस वायरस से संक्रमित हुए हैं। बुलेटिन के अनुसार फिलहाल अस्पतालों में कार्यरत सीनियर रेसीडेंट और जूनियर रेसीडेंट डॉक्टरों को छह महीने के कार्य विस्तार का आदेश जारी किया गया है। बुलेटिन के अनुसार 41,437 मरीज स्वस्थ हो गये हैं या अन्यत्र चले गये हैं जबकि फिलहाल 26,588 मरीजों का उपचार चल रहा है। अब तक 4,20,707 परीक्षण किये गये हैं। दिल्ली में निषिद्ध क्षेत्र मंगलवार को 266 थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...