AES से बच्चों की मौत पर बिहार विधानसभा में हंगामा, मंगल पांडे के इस्तीफे की उठी मांग

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 5 2019 3:33PM
AES से बच्चों की मौत पर बिहार विधानसभा में हंगामा, मंगल पांडे के इस्तीफे की उठी मांग
Image Source: Google

पांडे ने राजद सदस्यों की टोकाटाकी के बीच अपने जवाब में कहा कि एईएस के सामने आने के एक महीने के बाद भी इन मौतों को रोकने के लिए विपक्ष राजद की तरफ से एक भी सुझाव नहीं आया।

पटना। बिहार विधानसभा की कार्यवाही शुक्रवार को विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के विधायकों के हंगामे के चलते दोपहर दो बजे तक स्थगित कर दी गई। राजद विधायकों का कहना था कि राज्य में एक्यूट ऐन्सेफिलाइटस सिंड्रोम (एईएस) की वजह से बच्चों की मौत के बारे में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे का जवाब उन्हें स्वीकार नहीं है और वह इस मुद्दे पर उनके इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने के बाद केवल पांच मिनट ही चल सकी और इसके बाद सदन में हंगामा होने लगा।

इसे भी पढ़ें: बिहार विधानसभा: मानसून सत्र के पांचवें दिन सदन पहुंचे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव

जब सदन का कामकाज ग्यारह बजे दोबारा शुरू हुआ तो स्वास्थ्य मंत्री ने राजद सदस्य अब्दुल बारी सिद्दीकी के अल्प कालिक चर्चा के प्रस्ताव का जवाब देना शुरू किया। इसमें पूछा किया गया सरकार ने राज्य में एईएस के प्रकोप से निपटने के लिए क्या कदम उठाये हैं। गौरतलब है कि इस बीमारी की वजह से राज्य में गत महीने में 150 बच्चों की मौत हो चुकी है। 
पांडे ने राजद सदस्यों की टोकाटाकी के बीच अपने जवाब में कहा कि एईएस के सामने आने के एक महीने के बाद भी इन मौतों को रोकने के लिए विपक्ष राजद की तरफ से एक भी सुझाव नहीं आया। विधानसभा अध्यक्ष ने राजद विधायकों से कहा कि अगर वे मंत्री को सुनने को तैयार ही नहीं हैं तो जवाब कौन देगा। इसके बाद राजद सदस्य उग्र हो गये और वे आसन के निकट आकर सरकार विरोधी नारे लगाने लगे। जिससे अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को दोपहर दो बजे तक स्थगित कर दिया। कांग्रेस के सदस्य इस दौरान सीट पर बैठे रहे। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video