Rajnath Singh के बयान पर दिग्विजय सिंह बोले, वह उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के भाषण देखें

Digvijay Singh
ANI
अंकित सिंह । Jan 23, 2023 12:55PM
राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में कहा था कि आज राहुल गांधी घूम-घूम कर कह रहे हैं कि हिंदुस्तान में नफरत ही नफरत है। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि हिंदुस्तान में नफरत पैदा करने की कोशिश कौन कर रहा है? उनको कहां नफरत दिखाई दे रही है?

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रविवार को मध्य प्रदेश के दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के भारत जोड़ो यात्रा का जिक्र करते हुए राहुल गांधी पर निशाना साधा। इसी को लेकर अब कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने राजनाथ सिंह पर पलटवार किया है। अपने बयान में काग्रेस नेता ने कहा कि मैं उनसे कहना चाहूंगा कि वह उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के भाषण देखें। उन्होंने दावा किया कि वह जो खुलकर नफरत फैला रहे और लोगों की हत्या करने की बात कर रहे, आपने उनके बारे में एक शब्द नहीं बोला। हमें यह उम्मीद नहीं थी।

इसे भी पढ़ें: 'अगर युद्ध की नौबत आती है तो सेना के साथ पूरा देश लड़ता है', NCC को संबोधित करते हुए बोले राजनाथ

दरअसल, राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में कहा था कि आज राहुल गांधी घूम-घूम कर कह रहे हैं कि हिंदुस्तान में नफरत ही नफरत है। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि हिंदुस्तान में नफरत पैदा करने की कोशिश कौन कर रहा है? उनको कहां नफरत दिखाई दे रही है? कांग्रेस के लोग सारी दुनिया में भारत की छवि खराब कर रहे हैं। उन्होंने साफ तौर पर कहा था कि नफरत पैदा कर के राहुल गांधी सत्ता प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे भारत ने कभी जाति, पंथ और मजहब के आधार पर भेदभाव नहीं किया। भारत की आजादी में सभी ने योगदान दिया। उन्होंने कहा कि राहुल जी लोगों के बीच जाकर मोदीजी और भाजपा के प्रति नफरत पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। ये (राहुल एवं कांग्रेस नेता) मोहब्बत फैलाने की बात करते हैं। ये क्या जानते हैं मोहब्बत क्या है?

इसे भी पढ़ें: Agnipath Scheme: अग्निवीरों को पीएम मोदी ने किया संबोधित, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी रहे मौजूद

फिलहाल राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा जम्मू-कश्मीर में है। राहुल गांधी ने आज प्रवासी कश्मीरी पंडितों के एक प्रतिनिधिमंडल से सांबा जिले में मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल के सदस्य एवं सामाजिक कार्यकर्ता अमित कौल ने कहा कि उन्होंने गांधी को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के पास अपनी जगती बस्ती में आमंत्रित किया है और कश्मीर जाते समय वह रास्ते में समुदाय के सदस्यों से संभवत: मिलने आएंगे। कौल ने कि गांधी के साथ हमारी बहुत अच्छी बातचीत हुई और हमने उन्हें समुदाय के मुद्दों, विशेष रूप से प्रधानमंत्री पैकेज के तहत कार्यरत उन कर्मचारियों की समस्याओं के बारे में बताया, जिन्हें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली पिछली संप्रग (संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन) सरकार ने नौकरी दी थी। वे पिछले छह महीनों से विरोध कर रहे हैं और उनका वेतन रोक दिया गया है।

अन्य न्यूज़