क्या कर्नाटक में होगा मंत्रिमंडल फेरबदल ? मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने दिया यह जवाब

Basavaraj Bommai
प्रतिरूप फोटो
मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि मंत्रिमंडल में फेरबदल पर नड्डा के साथ विस्तृत चर्चा हुई। उन्होंने कहा है कि जब वह कार्यकारी समिति की बैठक के लिए आएंगे तब इस बारे में और बात करेंगे। कार्यकारिणी की बैठक 16 और 17 अप्रैल को होस्पेट में होने वाली है। राज्य मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री सहित 30 मंत्री हैं।

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बृहस्पतिवार को कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी. नड्डा होस्पेट में पार्टी की राज्य कार्यकारी समिति की बैठक में भाग लेंगे, जिसके बाद मंत्रिमंडल में फेरबदल के बारे में निर्णय लिया जाएगा। होस्पेट नवनिर्मित विजयनगर जिले का जिला मुख्यालय शहर है। बोम्मई ने नयी दिल्ली से लौटने के बाद संवाददाताओं से कहा, मंत्रिमंडल में फेरबदल पर नड्डा के साथ विस्तृत चर्चा हुई। उन्होंने कहा है कि जब वह कार्यकारी समिति की बैठक के लिए आएंगे तब इस बारे में और बात करेंगे। कार्यकारिणी की बैठक 16 और 17 अप्रैल को होस्पेट में होने वाली है। राज्य मंत्रिमंडल में मुख्यमंत्री सहित 30 मंत्री हैं, जबकि स्वीकृत संख्या 34 है। राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और मंत्रिमंडल में चार पद खाली है, जिसके लिए जोरदार पैरवी चल रही है। 

इसे भी पढ़ें: Hijab Controversy: अलकायदा सरगना की तारीफ पर मुस्कान के पिता ने कहा- हम प्रेम एवं भाईचारे के साथ रह रहे हैं 

बोम्मई ने कहा कि कार्यकारी समिति की बैठक के बाद जब नड्डा उन्हें दिल्ली बुलाएंगे, तो वह वहां जाएंगे और आगे की कार्रवाई तय करेंगे। मुख्यमंत्री ने अपने दिल्ली दौरे को सफल बताया। उन्होंने कहा कि वह केंद्रीय ऊर्जा मंत्री राज कुमार सिंह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, पर्यावरण और वन मंत्री भूपेंद्र यादव, केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ कर्नाटक के विकास से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी गए थे। मुख्यमंत्री ने कहा, मैंने विभिन्न मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की। मुझे वहां से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। मुझे उम्मीद है कि आने वाले दिनों में कर्नाटक को कई मंजूरियां और लाइसेंस मिलेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़