VCK प्रमुख थिरुमावलवन ने भाजपा की यात्रा का किया विरोध, DGP से अनुमति ना देने की अपील की

Thol Thirumavalavan
वीसीके प्रमुख थिरुमावलवन ने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी अपनी प्रस्तावित यात्रा के माध्यम से तमिलनाडु में हिंसा और सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने की कोशिश कर रही है इसलिएइसकी अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

चेन्नई। विदुथलाई चिरुथिगाल काची के संस्थापक नेता थोल थिरुमावलवन ने शुक्रवार को तमिलनाडु के पुलिस महानिदेशक से अनुरोध किया कि वे अगले महीने भाजपा की प्रस्तावित ‘यात्रा’ को अनुमति न दें। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे हिंसा को बढ़ावा मिल सकता है। थिरुमावलवन ने पत्रकारों से कहा कि उन्होंने डीजीपी जे. के. त्रिपाठी को अपनी याचिका सौंपी और शीर्ष अधिकारी ने आश्वासन दिया है कि वह इस पर गौर करेंगे। थिरुमावलवन ने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी अपनी प्रस्तावित यात्रा के माध्यम से तमिलनाडु में हिंसा और सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने की कोशिश कर रही है इसलिएइसकी अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।  

इसे भी पढ़ें: तमिलनाडु की वानती श्रीनिवासन BJP महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष नियुक्त 

भाजपा ने छह नवम्बर से छह दिसम्बर के बीच ‘वेल’ यात्रा निकालने की घोषणा की है। महीने भर चलने वाला यह अभियान उत्तर तमिलनाडु के तिरुत्तानी से शुरू होकर राज्य के दक्षिणी क्षेत्र में तिरुचेंदूर में समाप्त होगा। वीसीके नेता ने मुख्यमंत्री से अपील की कि सरकार को इस यात्रा को एक राजनीतिक कार्यक्रम के तौर पर नहीं देखना चाहिए। थिरुमावलवन ने आरोप लगाया कि इसके बजाय, भगवा पार्टी की यात्रा केवल ‘‘हिंसा भड़काने की साजिश’’ है और इसलिए सरकार को इसकी अनुमति नहीं देनी चाहिए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़