कोरोना वैक्सीनेशन का पूर्वाभ्यास रहा सफल, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 29, 2020   21:03
कोरोना वैक्सीनेशन का पूर्वाभ्यास रहा सफल, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि जिला प्रशासनों की तरफ से विभिन्न कार्यों के लिये विशेष टीमों का गठन किया गया था। इसमें डमी लाभार्थियों का डाटा अपलोड करना, स्थान का निर्धारण करना,टीके का आवंटन, लाभार्थियों एवं टीका देने वालों को टीकाकरण का विवरण देना तथा अन्य कार्य शामिल है।

नयी दिल्ली। कोरोना वायरस संक्रमण के टीकाकरण अभियान की तैयारियों एवं कार्यप्रणाली का आकलन करने के लिये आंध्र प्रदेश, पंजाब, गुजरात एवं असम में सफलता पूर्वक पूर्वाभ्यास का आयोजन किया गया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। देश में जल्दी ही कोविड-19 टीकाकरण शुरू होने की उम्मीद है। इस पूर्वाभ्यास का आयोजन आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले, गुजरात के राजकोट एवं गांधीनगर, पंजाब के लुधियाना एवं शहीद भगत सिंह नगर (नवांशहर) तथा असम के सोनितपुर एवं नलबाड़ी जिलों में सोमवार एवं मंगलवार को किया गया। 

इसे भी पढ़ें: गुजरात में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास, लाभार्थियों ने कहा- सबकुछ बहुत आसानी से हो गया 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि जिला प्रशासनों की तरफ से विभिन्न कार्यों के लिये विशेष टीमों का गठन किया गया था। इसमें डमी लाभार्थियों का डाटा अपलोड करना, स्थान का निर्धारण करना,टीके का आवंटन, लाभार्थियों एवं टीका देने वालों को टीकाकरण का विवरण देना तथा अन्य कार्य शामिल है। पूर्वाभ्यास के पहले दिन फील्ड फीडबैक की समीक्षा 29 दिसंबर को संयुक्त सचिव (जन स्वास्थ्य) द्वारा राज्य और जिला कार्यक्रम अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए की गई। मंत्रालय ने बताया, ‘‘सभी राज्यों ने देश भर में बड़ी संख्या में लोगों को शामिल करने के लिए अपेक्षित टीकाकरण प्रक्रियाओं की पारदर्शिता एवं प्रभावी निगरानी सुनिश्चित करने के लिए सूचना प्रौद्वोगिकी मंच के इस्तेमाल के संदर्भ में संतोष व्यक्त किया।’’ 

इसे भी पढ़ें: सीरम इंस्टिट्यूट को वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की मंजूरी का इंतजार, 4-5 करोड़ खुराक का हो चुका है उत्पादन 

इसने बताया, ‘‘को-विन प्लेटफॉर्म को और बेहतर बनाने के लिये सूचना प्रौद्वोगिकी मंच पर अतिरिक्त सुझाव को भी नोट किया गया। प्राप्त विस्तृत राय से परिचालन दिशानिर्देशों एवं आईटी मंच को समृद्ध करने और कोविड-19 टीकाकरण की योजना को मजबूत बनाने में मदद मिलेगी। इस पूर्वाभ्यास का उद्देश्य को-विन के कार्यान्वयन की शुरूआत करना और इसके कार्यों की पुष्टि करना भी था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।