MP में वैक्सीनेशन महाअभियान के चलते प्रदेश ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड, 24 लाख से ज्यादा लोगों को लगा है वैक्सीन

Vaccination in mp
सुयश भट्ट । Aug 26, 2021 11:42AM
चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि वैक्सीनेशन में फिर मध्यप्रदेश ने रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने कहा कि 21 लाख 30 हज़ार टारगेट था लेकिन 24 लाख 20 हज़ार 374 लोगों को वैक्सीन लगाया गया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में वैक्सीनेशन महाभियान के दूसरे दिन गुरुवार को दोनों डोज लगाए जाएंगे। लेकिन सरकार और प्रशासन का ज्यादा फोकस दूसरे डोज को लेकर रखा गया है। 25 और 26 अगस्त को वैक्सीनेशन महाअभियान का दूसरा चरण है। बताया जा रहा है कि इस अभियान में 1 दिन में 20 लाख से ज्यादा लोगों को दूसरा डोज लगाने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं वैक्सीनेशन महाअभियान के लिए भोपाल में 700 सेंटर बनाए गए हैं।

इसे भी पढ़ें:मंत्रियों ने की मुख्यमंत्री के आदेश की अवहेलना, वैक्सीनेशन महाअभियान 2.0 के दौरान भोपाल में ही बैठे रहे आधा दर्जन मंत्री 

वहीं चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि वैक्सीनेशन में फिर मध्यप्रदेश ने रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने कहा कि 21 लाख 30 हज़ार टारगेट था लेकिन 24 लाख 20 हज़ार 374 लोगों को वैक्सीन लगाया गया है। इसका मतलब है कि टारगेट से 14 % ज़्यादा है। प्रदेश में अब तक 65% लोग वैक्सीनेट हो गए हैं।

आगे कहा कि वैक्सीनेशन महाभियान के चलते गुरुवार को 10 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। खास कर के सेकण्ड डोज़ पर फोकस रहेगा, लेकिन दोनों डोज़ लगेंगे। सुदूर गांव आदिवासी क्षेत्र में जनजागरण करते हुए वहां भी वैक्सीन लगाया गया है।

इसे भी पढ़ें:बढ़ती मंहगाई को लेकर मध्यप्रदेश महिला कांग्रेस खोलेगी बीजेपी सरकार के खिलाफ मोर्चा,रणनीति हुई तय 

प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि किसने कहा था यह बीजेपी की वैक्सीन है और इसके कारण नपुंसक हो जाएंगे। हमारे रिकॉर्ड तो हम तोड़ रहे हैं 24 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगी है। उन्होंने कहा कि मैं अपील करता हूं आज भी लोग बढ़-चढ़कर वैक्सीन लगवाएं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़