किसानों के अपमान से देश का हर नागरिक आक्रोशित : अखिलेश यादव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 26, 2021   13:49
किसानों के अपमान से देश का हर नागरिक आक्रोशित : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि भाजपा सरकार के अहंकार के कारण हो रहे किसानों के अपमान से देश का हर नागरिक आक्रोशित है।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि भाजपा सरकार के अहंकार के कारण हो रहे किसानों के अपमान से देश का हर नागरिक आक्रोशित है। अखिलेश ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ काला दिवस मना रहे किसानों का जिक्र करते हुए एक ट्वीट में कहा बहाकर अपना ख़ून-पसीना जो दाने पहुँचाता घर-घर, काला दिवस मना रहा है, आज वो देश का हलधर।

इसे भी पढ़ें: अरुणाचल प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 429 नए मामले, दो मरीजों की मौत

किसान एकता मोर्चा हैशटैग से किए गए इसी ट्वीट में अखिलेश ने कहा भाजपा सरकार के अहंकार के कारण आज देश में किसानों के साथ जो अपमानजनक व्यवहार हो रहा है उससे देश का हर नागरिक आक्रोशित है। हमारे हर निवाले पर किसानों का क़र्ज़ है। गौरतलब है कि विभिन्न संगठनों से जुड़े किसान नए कृषि कानूनों के खिलाफ अपने प्रदर्शन के छह माह पूरे होने पर बुधवार को काला दिवस मना रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: दिल्लीवालों के लिए बड़ी खबर, वैक्सीन सप्लाई के लिए राजी हुई स्पुतनिक-वी

किसान पिछले साल नवंबर से नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों के विभिन्न 40 संगठनों को मिलाकर बनाए गए संयुक्त किसान मोर्चा ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गतिरोध पर बातचीत शुरू करने का आग्रह करते हुए पत्र लिखा था। नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों और सरकार के बीच अनेक दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन वह बेनतीजा ही रही।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...