मेरठ 12 विकास खंड के किसानों को मिलेगा 900 करोड़ का फसली ऋण,धनराशि का हुआ आवंटन

 फसली ऋण
Rajeev Sharma । Aug 26, 2021 11:27AM
जनपद के सभी विकास खंड के लिए लक्ष्य निर्धारित कर आगे की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। योजना के तहत जनपद के सभी 12 विकास खंड क्षेत्र के गांवों की सूची तैयार कर पात्रों में 900 करोड़ आबंटन जाएगा।

मेरठ,  कोरोना महामारी काल में धरतीपुत्रों की अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए बड़ी योजना तैयार की गई है। खाद-बीज से लेकर जरूरी कामों को लिए किसानों को नौ सौ करोड़ रुपये का फसली ऋण की सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके लिए जनपद के सभी विकास खंड के लिए लक्ष्य निर्धारित कर आगे की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। योजना के तहत जनपद के सभी 12 विकास खंड क्षेत्र के गांवों की सूची तैयार कर पात्रों को फसली ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए नौ सौ करोड़ रुपये की धनराशि का आवंटन किया जा चुका है और हर विकास खंड के लिए लक्ष्य भी निर्धारित किया गया है।

 

  हर वर्ष बड़ी संख्या में किसान समितियों से ही खाद-बीज के साथ अन्य जरूरतों को पूरा करने के लिए ऋण लेते हैं और मात्र तीन प्रतिशत वार्षकि ब्याज दर से भुगतान करते हैं। किसानों को 75 प्रतिशत धनराशि जरूरी कार्यो के लिए और 25 प्रतिशत खाद आदि के लिए मिलती है। साथ ही अनुदान भी किसानों को दिया जाता है।

तहसील        निर्धारित लक्ष्य

मेरठ              274 करोड़

सरधना          191 करोड़

मवाना प्रथम       204 करोड़

मवाना द्वितीय    231 करोड़

कुल                   900 करोड़

सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक सहकारिता प्रदीप कुमार सिंह ने कहा- किसानों के लिए नौ सौ करोड़ रुपये फसली ऋण के रूप में प्रदान करने के लिए आवंटित किए गए हैं। पिछले वर्ष के मुकाबले इस साल कोरोना को देखते हुए बजट अधिक आवंटित किया गया है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़