मध्य प्रदेश में अंतिम वर्ष की परीक्षा और परिणाम 30 सितंबर से पहले

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 29, 2020   08:40
मध्य प्रदेश में अंतिम वर्ष की परीक्षा और परिणाम 30 सितंबर से पहले

अन्य राज्यों की तरह मध्य प्रदेश ने अंतिम वर्ष की परीक्षाओं का कभी विरोध नहीं किया। हमारी तैयारी पहले से ही चल रही है और हम 30 सितंबर से पहले प्रक्रिया पूरी कर परिणाम भी घोषित कर देंगे।

भोपाल। मध्य प्रदेश के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि प्रदेश ने अंतिम वर्ष की परीक्षा आयोजित करने का कभी विरोध नहीं किया तथा 30 सितंबर से पहले इस प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाएगा और परिणाम भी घोषित कर दिया जाएगा। राज्य के उच्च शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव अनुपम राजन ने कहा, ‘‘अन्य राज्यों की तरह मध्य प्रदेश ने अंतिम वर्ष की परीक्षाओं का कभी विरोध नहीं किया। हमारी तैयारी पहले से ही चल रही है और हम 30 सितंबर से पहले प्रक्रिया पूरी कर परिणाम भी घोषित कर देंगे।’’ 

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री को दिख रहा सिर्फ आपदा में अवसर, मध्य प्रदेश में हो रही यूरिया की कालाबाजारी

उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को कहा कि राज्य और विश्वविद्यालय 30 सितंबर तक अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करें। न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम आर शाह की पीठ ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से मामले की सुनवाई करते हुए अंतिम वर्ष की परीक्षाएं कराने के विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के फैसले को सही ठहराया और कहा कि अगर किसी राज्य को लगता है कि कोविड-19 महामारी की वजह से वह नियत तारीख तक परीक्षा आयोजित नहीं कर सकता है तो उसे नयी तारीख के लिए यूजीसी से संपर्क करना होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।