Prabhasakshi's Newsroom। वित्त मंत्री का राहुल पर निशाना, ई-वीजा पर ही भारत की यात्रा कर सकेंगे अफगान नागरिक

Finance Minister
अंकित सिंह । Aug 25, 2021 6:00PM
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि अफगानिस्तान में मौजूदा हालात के मद्देनजर सभी अफगान नागरिकों को अब सिर्फ ई-वीजा पर भारत का दौरा करना होगा। मंत्रालय की ओर से यह फैसला उस वक्त किया गया है जब कुछ दिनों पहले ही सरकार ने अफगान नागरिकों के लिए ‘आपातकालीन व अन्य वीजा’ की शुरुआत की।

राजनीति हो और राजनीति में आरोप-प्रत्यारोप ना हो तो भला राजनीति का आनंद कहां। आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जिस तरीके से राहुल गांधी पर निशाना साधा उससे तो ऐसा ही लगता है कि कहीं ना कहीं आने वाले दिनों में राजनीतिक तल्खियां और बढ़ती जाएंगी। महाराष्ट्र की राजनीति भी इन दिनों सुर्खियों में है। भाजपा-शिवसेना आमने-सामने है। आज हम विश्लेषण इन्हीं तो खबरों की करेंगे। साथ ही साथ यह भी जानेंगे कि कैसे अफगान नागरिकों के लिए भारत की यात्रा में आसान नहीं है। 

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने शिवसेना नेतृत्व से कहा कि मै आपसे नहीं डरता। केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि कहा कि मेरी पार्टी के नेता मेरे साथ खड़े हैं और मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं। जन आशीर्वाद यात्रा परसों फिर से शुरू होगी। भाजपा नेता ने कहा कि बॉम्बे हाईकोर्ट में मेरे ख़िलाफ़ दायर सभी मामलों (शिवसेना द्वारा दायर किए गए) में फैसला मेरे पक्ष में आया है। यह इस बात का संकेत है कि देश क़ानून से चलता है। 

इसे भी पढ़ें: जाति आधारित जनगणना के मुद्दे का जल्द ही कोई हल निकालने से बचना चाहेगी भाजपा

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि अफगानिस्तान में मौजूदा हालात के मद्देनजर सभी अफगान नागरिकों को अब सिर्फ ई-वीजा पर भारत का दौरा करना होगा। मंत्रालय की ओर से यह फैसला उस वक्त किया गया है जब कुछ दिनों पहले ही सरकार ने अफगान नागरिकों के लिए ‘आपातकालीन व अन्य वीजा’ की शुरुआत की। गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि अफगानिस्तान में मौजूदा हालात को देखते हुए और आपातकालीन व अन्य वीजा की शुरुआत के माध्यम से वीजा प्रक्रिया को व्यवस्थित करने के मद्देनजर यह फैसला किया गया है कि सभी अफगान नागरिक अब सिर्फ ई-वीजा पर ही भारत की यात्रा कर सकेंगे। गृह मंत्रालय ने यह घोषणा भी की है कि कुछ अफगान नागरिकों के पासपोर्ट खो जाने संबंधी खबरों के मद्देनजर उन सभी अफगान नागरिकों को पहले जारी वीजा तत्काल प्रभाव रद्द किये जाते हैं जो फिलहाल भारत में नहीं हैं। मंत्रालय ने कहा, ‘‘भारत का दौरा करने के इच्छुक अफगान नागरिक ई-वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने की बैंक और बीमा कंपनियों को लेकर बड़ी घोषणाएं!

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि ‘एक जिला- एक उत्पाद’ को बढ़ावा देने के लिये बैंकों से राज्यों के साथ मिलकर काम करने को कहा गया है। सीतारमण ने यहां सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक प्रमुखों के साथ समीक्षा बैठक में भाग लेने के बाद संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही। उन्होंने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से कहा कि वे निर्यातकों के संगठनों से बातचीत करें और उनकी जरूरतों को समझें। उन्होंने ‘एक जिला, एक उत्पाद निर्यात’एजेंडा को आगे बढ़ाने के लिए बैंकों से राज्यों के साथ मिलकर काम करने को कहा। वित्त मंत्री ने कहा है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने महामारी के बावजूद अच्छा काम किया और इस दौरान वह रिजर्व बैंक की त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई से बाहर निकले हैं। वित्त मंत्री ने बैंकों से वित्तीय प्रौद्योगिकी क्षेत्र को समर्थन देने को भी कहा। इसी दौरान नेशनल मोनेटाइजेशन प्रोग्राम को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर सवाल पूछा गया। सवाल के जवाब में राहुल गांधी पर तीखा हमला करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि क्या वह मोनेटाइजेशन समझते हैं? वह उन्होंने सवाल किया कि क्या कांग्रेस कr सरकार 2008 में नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के लिए RFP नहीं लाई थी। मैं राहुल गांधी से पूछना चाहती हूं किअब रेलवे स्टेशन का मालिक कौन है, जीजा जी? इसके अलावा निर्मला सीतारमण ने यह भी कहा कि राहुल गांधी ने 2013 में मीडिया के सामने अध्यादेश फाड़ दिया था जब तत्कालीन प्रधानमंत्री देश के बाहर थे। अगर वे मोनेटाइजेशन के खिलाफ थे तो उन्होंने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के लिए RFP क्यों नहीं फाड़ा?

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़