किसान और व्यापारी के बीच अनुबंध प्रपत्र को SDM कार्यालय में रखा जाएगा सुरक्षित: चौहान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2020   22:40
किसान और व्यापारी के बीच अनुबंध प्रपत्र को SDM कार्यालय में रखा जाएगा सुरक्षित: चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अनुबंध के लिए राज्य सरकार द्वारा एक ‘प्रोफार्मा’ तैयार किया जा रहा है जिसमें किसान और फसल क्रय करने वाली कंपनी के प्रतिनिधि, व्यापारी या व्यक्ति के हस्ताक्षर होंगे तथा इस प्रपत्र को अनुविभागीय दण्डाधिकारी राजस्व के कार्यालय में सुरक्षित रखा जाएगा।

भोपाल। तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमा पर किसानों के चल रहे प्रदर्शनों के बीच मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार ने इन कानूनों का लाभ आसानी से किसानों तक पहुंचाने के वास्ते कई फैसले लिए हैं। उन्होंने कहा कि अब किसान और फसल क्रय करने वाली कंपनी, व्यापारी या व्यक्ति के मध्य होने वाले अनुबंध प्रपत्र को अनुविभागीय दण्डाधिकारी (एसडीएम) राजस्व कार्यालय में दस्तावेज के रूप में सुरक्षित रखा जाएगा, ताकि किसान के साथ किसी भी तरह का धोखा नहीं हो सके। 

इसे भी पढ़ें: मध्यप्रदेश की मंत्रिपरिषद ने ‘धर्म स्वातंत्र्य विधेयक-2020’ को दी मंजूरी 

चौहान ने कहा कि अनुबंध के लिए राज्य सरकार द्वारा एक ‘प्रोफार्मा’ तैयार किया जा रहा है जिसमें किसान और फसल क्रय करने वाली कंपनी के प्रतिनिधि, व्यापारी या व्यक्ति के हस्ताक्षर होंगे तथा इस प्रपत्र को अनुविभागीय दण्डाधिकारी राजस्व के कार्यालय में सुरक्षित रखा जाएगा। आधिकारिक विज्ञप्ति में चौहान के हवाले से कहा गया कि राज्य सरकार ने फैसला लिया है कि प्रदेश की सभी 313 जनपद पंचायतों में नए कृषि कानूनों की बारीकियों से कृषकों को अवगत कराने और इन कानूनों का लाभ किसानों तक पहुंचाने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित होंगे, ताकि संबंधित कृषि कानूनों के हर पहलू से किसान अवगत होकर फायदा प्राप्त कर सकें। 

इसे भी पढ़ें: जीतू पटवारी का मुकेश अंबानी और गौतम अदाणी को खुला पत्र, कृषि कानून को लेकर लिखा पत्र 

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में केन्द्र सरकार द्वारा किसानों के हित में नए कानूनों के लिए की गई पहल के अनुरूप क्रियान्वयन भी शुरू कर दिया गया है। चौहान ने कहा कि किसानों की आय दोगुना करने की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा को पूरा किया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।