गोवा में 20 मार्च को होंगे स्थानीय निकायों के चुनाव, EC ने की घोषणा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 22, 2021   15:46
गोवा में 20 मार्च को होंगे स्थानीय निकायों के चुनाव, EC ने की घोषणा

पणजी नगर निगम, 11 नगरपालिका परिषदों के लिए 20 मार्च को चुनाव होंगे।पणजी शहर के नगर निगम के लिए मतदान सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक होगा। गर्ग ने बताया कि कोविड-19 से पीड़ित लोगों को शाम में चार से पांच बजे के बीच मतदान की इजाजत होगी।

पणजी। गोवा में 11 नगरपालिका परिषदों और पणजी नगर निगम के लिए 20 मार्च को चुनाव होंगे। राज्य निर्वाचन आयोग ने सोमवार को यह जानकारी दी। राज्य निर्वाचन आयुक्त सी आर गर्ग ने यहां पत्रकारों को बताया कि चुनाव के दौरान कोविड-19 संबंधी सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 11 नगरपालिका परिषदों और पणजी शहर के नगर निगम के लिए मतदान सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक होगा। गर्ग ने बताया कि कोविड-19 से पीड़ित लोगों को शाम में चार से पांच बजे के बीच मतदान की इजाजत होगी। उन्होंने बताया कि राज्य में हाल में आयोजित जिला पंचायत चुनावों में भी यही प्रक्रिया अपनायी गयी थी। गोवा में 13 नगरपालिका परिषद और एक नगर निगम है।

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक ने केरल के साथ लगी सीमाएं फिर बंद कीं, लोगों की बढ़ी मुश्किलें

गर्ग ने बताया कि जिन जगहों पर चुनाव होने हैं, वहां सोमवार से आचार संहिता लागू हो गयी। उन्होंने कहा कि संखलिम नगरपालिका परिषद के वार्ड नवेलिम (दक्षिण गोवा) जिला पंचायत क्षेत्र और विभिन्न ग्राम पंचायतों के 22 वार्ड के लिए भी 20 मार्च को उपचुनाव होंगे। उन्होंने बताया कि विस्तृत मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की जाएगी जिसका चुनाव के दौरान सभी लोगों को पालन करना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा, ‘‘कोविड-19 संबंधी किसी भी तरह की समस्या से बचने के लिए मैं लोगों से सभी दिशा-निर्देशों का पालन करने की अपील करता हूं।’’ गर्ग ने बताया कि 25 फरवरी से चार मार्च के बीच नामांकन पत्र स्वीकार किये जाएंगे और छह मार्च को उनकी जांच होगी। मतगणना 22 मार्च को होगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।