राष्ट्रीय मानवाधिकार संघ- भारत गोरखपुर इकाई के सदस्यों ने उप जिलाअधिकारी एवं उपजिला मजिस्ट्रेट खजनी का किया सम्मान

राष्ट्रीय मानवाधिकार संघ- भारत गोरखपुर इकाई के सदस्यों ने उप जिलाअधिकारी एवं उपजिला मजिस्ट्रेट खजनी का किया सम्मान
प्रतिरूप फोटो

राष्ट्रीय प्रवक्ता ई.मो. मिन्नतुल्लाह एवं प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सैय्यद इरशाद अहमद के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने उपजिला अधिकारी/उप जिला मजिस्ट्रेट खजनी पवन कुमार को खजनी का उप जिला अधिकारी बनाए जाने पर तहसील खजनी में उनके कार्यालय पर पहुंचकर एक उनका स्वागत किया।

गोरखपुर। राष्ट्रीय मानवाधिकार संघ-भारत गोरखपुर इकाई के सदस्यों द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष राष्ट्रीय मानवाधिकार संघ-भारत एडवोकेट आरसी शर्मा "निरंकारी"एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ शमशाद आलम एडवोकेट के निर्देश पर राष्ट्रीय प्रवक्ता ई.मो. मिन्नतुल्लाह एवं प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सैय्यद इरशाद अहमद के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने उपजिला अधिकारी/उप जिला मजिस्ट्रेट खजनी पवन कुमार को खजनी का उप जिला अधिकारी बनाए जाने पर तहसील खजनी में उनके कार्यालय पर पहुंचकर एक प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की और उनका स्वागत किया साथ ही साथ उन्हें स्मृति चिन्ह भेंट किया एवं शाल ओढ़ाकर की और पुष्पगुच्छ देकर के उनके कार्यों की सराहना की। इस अवसर पर वरिष्ठ समाजसेवी एवं गोरखपुर शहर विधानसभा के प्रत्याशी विजय श्रीवास्तव ने कहा कि व्यक्ति की पहचान उसके कार्यों से होती है और जिसका उदाहरण पवन कुमार जी हैं। इस अवसर पर सैय्यद इरशाद अहमद ने कहा कि चौरी चौरा महोत्सव का सफल आयोजन पवन जी ने किया है जो बधाई के पात्र हैं। राष्ट्रीय प्रवक्ता ई. मोहम्मद मिन्नतुल्लाह ने कहा कि पवन कुमार जी सादा जीवन और उच्च विचार में विश्वास रखते हैं और यही व्यक्ति को बड़ा बनाता है।

अंत में जिला अध्यक्ष अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ सरदार जसपाल सिंह ने सभी को अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर धरा धाम प्रमुख सौहार्दमणी डॉक्टर सौरभ पांडे  राम गिरीश त्रिपाठी,आशुतोष त्रिपाठी, राम जन्म यादव, कैलाश त्रिपाठी आफताब अहमद, सरदार जसपाल सिंह,हाजी जलालुद्दीन कादरी, राशिद कलीम अंसारी,मोहम्मद आकिब, मोहम्मद इज्जतुल्लाह आदि मौजूद रहे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।