यूक्रेन से भारतीय छात्रों को निकालने की योजना जल्द सार्वजनिक करे सरकार: कांग्रेस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2022   17:10
यूक्रेन से भारतीय छात्रों को निकालने की योजना जल्द सार्वजनिक करे सरकार: कांग्रेस

राहुल गांधी ने कहा कि ऐसी हिंसा का शिकार हो रहे भारतीय छात्रों और यह वीडियो देख रहे उनके परिवारों के साथ मेरी सहानुभूति है। किसी भी माता-पिता को इस स्थिति से नहीं गुजरना चाहिए।

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने युद्धग्रस्त यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को समय रहते स्वदेश लाने में केंद्र सरकार के विफल रहने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि सरकार को अब बताना चाहिए कि भारत के नागरिकों को सुरक्षित बाहर निकालने की उसकी क्या योजना है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने यूक्रेन में सैनिकों द्वारा कुछ भारतीय छात्रों के साथ कथित तौर पर दुर्व्यवहार किए जाने से जुड़ा वीडियो भी ट्विटर पर साझा किया। राहुल गांधी ने कहा, ‘‘ऐसी हिंसा का शिकार हो रहे भारतीय छात्रों और यह वीडियो देख रहे उनके परिवारों के साथ मेरी सहानुभूति है। किसी भी माता-पिता को इस स्थिति से नहीं गुजरना चाहिए।’’ 

इसे भी पढ़ें: J&K में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, गुलाम नबी आजाद के भतीजे ने थामा भाजपा का दामन

कांग्रेस नेता ने यह भी कहा, ‘‘भारत सरकार को वहां से भारतीय नागरिकों को सुरक्षित निकालने की अपनी योजना के बारे में फंसे हुए लोगों और उनके परिवारों के साथ तत्काल ब्यौरा साझा करना चाहिए। हम अपने लोगों को इस तरह नहीं छोड़ सकते।’ पार्टी प्रवक्ता रागिनी नायक ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी जी चुनाव में फंसे हुए हैं, नागर विमान मंत्री (ज्योतिरादित्य सिंधिया) भाजपा के सदस्यता अभियान में फंसे हैं, विदेश मंत्रालय विरोधाभासी परामर्श जारी करके गाले बजाने में फंसा है। हमारे बच्चेयूक्रेन में दर्दनाक परिस्थिति में फंसे हैं।’’ 

इसे भी पढ़ें: गांधीवादी नेता थे कृष्णकांत, आपातकाल का विरोध करने पर कांग्रेस ने पार्टी से किया था निष्कासित

उन्होंने दावा किया, ‘‘प्रधानमंत्री जी ने यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों और उनके परेशान परिवारों के लिए शब्द नहीं बोला है। मोदी जी के समर्थक अक्सर ‘घर वापसी’ का शोर मचाते हैं, लेकिन यूक्रेन में फंसे भारतीय बच्चों की ‘घर वापसी’ के बारे में सब खामोश हैं।’’ रागिनी ने कहा, ‘‘सरकार को बताना चाहिए कि भारतीय नागरिकों को सुरक्षित निकालने की उसकी क्या योजना है। उसे यह जल्द करना चाहिए ताकि परिवारों और बच्चों को भरोसा जगे।’’ उन्होंने यह भी कहा कि सभी भारतीय नागरिकों को सुरक्षित वापसी के लिए हर जरूरी कदम उठाए जाने चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...