महाकाल के आंगन में उड़ा रंग-गुलाल, कोरोना के चलते पुलिस के साये में मनाई जा रही मध्य प्रदेश में होली

courtyard of Mahakal
दिनेश शुक्ल । Mar 29, 2021 7:18PM
मध्य प्रदेश में सभी हिन्दू त्यौहारों की शुरुआत महाकाल के पूजन-अर्चन से होती है। सोमवार को सुबह चार बजे होली पर पंडे-पुजारियों ने भगवान महाकाल को अबीर-गुलाल चढ़ाकर पर्व की शुरुआत की। इस बार कोरोना के चलते श्रद्धालु भस्मारती में शामिल नहीं हो पाए, लेकिन पंडे-पुजारियों ने महाकाल के साथ होली खेली।
भोपाल। कोरोना संक्रमण के बीच सोमवार को देशभर में धूमधाम से होली का त्यौहार मनाया जा रहा है। वही मध्य प्रदेश में परम्परा के मुताबिक होली खेलने की शुरुआत उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग भगवान महाकाल के आंगन से हुई। यहां भस्मारती में पुजारियों ने भगवान को अबीर-गुलाल लगाया और मंदिर में जमकर होली खेली। वहीं, प्रदेश के अधिकांश नगरों में कोरोना के चलते पुलिस के साये में होली का पर्व मनाया जा रहा है। 

 

इसे भी पढ़ें: छिंदवाड़ा की महाराष्ट्र से नजदीकी पड़ रही भारी, जिले में बढ़े कोरोना संक्रमित मरीज

बता दें कि मध्य प्रदेश में सभी हिन्दू त्यौहारों की शुरुआत महाकाल के पूजन-अर्चन से होती है। सोमवार को सुबह चार बजे होली पर पंडे-पुजारियों ने भगवान महाकाल को अबीर-गुलाल चढ़ाकर पर्व की शुरुआत की। इस बार कोरोना के चलते श्रद्धालु भस्मारती में शामिल नहीं हो पाए, लेकिन पंडे-पुजारियों ने महाकाल के साथ होली खेली। यहां सभी ने बाबा की भक्ति में लीन होकर अबीर-गुलाल और फूलों के साथ होली मनाई। रंग-गुलाल ऐसा उड़ा कि बाबा का दरबार रंगों से सराबोर हो गया।

 

इसे भी पढ़ें: अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत ने की पेट्रोल-डीजल को जीएसटी दायरे में लाने की माँग

इसके अलावा इंदौर, भोपाल सहित प्रदेश के 12 शहरों में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते शनिवार रात 9.00 बजे से सोमवार सुबह 6.00 बजे तक लॉकडाउन रहा। इस दौरान सीमित संख्या में लोगों को होलिका दहन की अनुमति दी गई। इसी अनुसार कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए रविवार शाम को लोगों ने होलिका दहन किया। वहीं, सोमवार को पुलिस के साये में होली का पर्व मनाया जा रहा है। शासन-प्रशासन  की घर में होली मनाने की अपील का पालन करते हुए अधिकांश लोग घरों में ही रंग-गुलाल खेल रहे हैं। सड़कों पर भीड़ नहीं जुट पाए, इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा पुख्ता इंतजाम किये हैं। जगह-जगह पुलिस बल तैनात और हुड़दंगियों पर नजर बनाए हुए है।

 

इसे भी पढ़ें: ग्वालियर-चंबल संभाग में अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन पर प्रशासन सख्त, कार्यवाही के निर्देश

इस बार कोरोना के चलते होली पर सार्वजनिक आयोजनों पर प्रतिबंध लगाया गया है और लोगों से घरों में होली मनाने की अपील की गई है। भोपाल-इंदौर में सभी मुख्य मार्गों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। केवल सडक़ों पर पुलिस के अलावा केवल वे लोग ही दिखाई दे रहे हैं, जिन्हें जरूरी काम से बाहर निकलना पड़ रहा है। बड़े-बुजुर्ग घरों में रंग-गुलाल लगाकर होली खेल रहे हैं, जबकि मुहल्ले में बच्चे पिचकारियां लेकर एक-दूसरे पर रंग उड़ा रहे हैं। हालांकि, ग्रामीण अंचलों में जमकर होली खेली जा रही है। यहां किसी को कोई रोक-टोक नहीं है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़