गृह मंत्री अमित शाह ने आयुष्मान CAPF हेल्थकेयर स्कीम का किया शुभारंभ

गृह मंत्री अमित शाह ने आयुष्मान CAPF हेल्थकेयर स्कीम का किया शुभारंभ

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज पराक्रम दिवस है। आज सीएपीएफ के पराक्रमी जवानों और उनके परिजनों के स्वास्थ्य के लिए आयुष्मान सीएपीएफ योजना शुरु हो रही है। इस योजना को शुरु करने के लिए आज से बेहतर दिन नहीं हो सकता।

गृह मंत्री अमित शाह ने सीएपीएफ कर्मियों और उनके आश्रितों के चिकित्सा उपचार के लिए आयुष्मान सीएपीएफ योजना की शुरुआत की। इस योजना से केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के 35 लाख से अधिक अधिकारियों और जवानों और उनके आश्रितों को नि:शुल्क स्वास्थ्य देखभाल सुविधा उपलब्ध होगी। इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज पराक्रम दिवस है। आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस का 125वां जन्मदिन है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने तय किया है अब से देश 23 जनवरी के दिन को पराक्रम दिवस के रूप में मनाएगा। आज सीएपीएफ के पराक्रमी जवानों और उनके परिजनों के स्वास्थ्य के लिए आयुष्मान सीएपीएफ योजना शुरु हो रही है। इस योजना को शुरु करने के लिए आज से बेहतर दिन नहीं हो सकता।

इसे भी पढ़ें: पराक्रम दिवस पर बोले PM मोदी, भारत को आत्मनिर्भर देखना चाहते थे नेताजी

गृह मंत्री ने कहा कि आयुष्मान सीएपीएफ योजना के तहत  सीएपीएफ के लगभग 10 लाख जवान और अधिकारी और 50 लाख के आसपास उनके परिवार और परिजन देश के अंदर 24 हज़ार अस्पतालों में सिर्फ कार्ड लेकर उसे स्वैप करके इलाज करा सकते हैं। सभी सीएपीएफ के जवानों औऱ उनके परिजनों को एक हेल्थ कार्ड दिया जाएगा। हर साल सीएपीएफ के जवानों का स्वास्थ्य परिक्षण होगा। हेल्थ कार्ड से आपको अपनी स्वास्थ्य से संबंधित जानकारियां कभी भी प्राप्त हो सकेंगी। सीएपीएफ के जवान, पुलिस के जवान कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अग्रिम पंक्ति पर खड़े रहे। कई जवान इस बीच संक्रमित भी हुए, कई जवानों ने अपनी जान भी गंवाई। मैं सभी जवानों के बहुत-बहुत बधाई देता हैं कि आपने इस लड़ाई में सफल भूमिका निभाई।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।