किसान एवं कृषि समिति के संयोजक भूपेंद्र हुड्डा ने कहा- MSP पर होनी चाहिए लीगल गारंटी

किसान एवं कृषि समिति के संयोजक भूपेंद्र हुड्डा ने कहा- MSP पर होनी चाहिए लीगल गारंटी
ANI

कांग्रेस द्वारा चिंतन शिविर के लिए गठित किसान एवं कृषि समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि सुझाव आए हैं कि हमें एक राष्ट्रीय कृषि ऋण राहत आयोग स्थापित करना चाहिए। किसान के डिफ़ॉल्ट में किसी की ज़मीन नीलाम न हो, कोई आपराधिक मामला न चलाया जाए। एमएसपी पर लीगल गारंटी होनी चाहिए।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एआईसीसी के महासचिवों, प्रभारियों, पीसीसी अध्यक्षों और कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) नेताओं के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की। चिंतन शिविर के दूसरे दिन आंतरिक चर्चाओं का दौर जारी रहेगा और शनिवार की सुबह पी. चिदम्बरम ने देश की आर्थिक हालात पर कुछ बातें साझा की है। उनके बाद किसानों के मुद्दे पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा और सामाजिक न्याय को लेकर सलमान खुर्शीद अलग अलग प्रेस वार्ता कर कांग्रेस की आगे के रोड मैप के बारे में जानकारी दी। 

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस उदयपुर में कर रही चिंतन शिविर और पंजाब में लगा झटका, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा- गुडबाय

कांग्रेस द्वारा चिंतन शिविर के लिए गठित किसान एवं कृषि समिति के संयोजक भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि सुझाव आए हैं कि हमें एक राष्ट्रीय कृषि ऋण राहत आयोग स्थापित करना चाहिए। किसान के डिफ़ॉल्ट में किसी की ज़मीन नीलाम न हो, कोई आपराधिक मामला न चलाया जाए। एमएसपी पर लीगल गारंटी होनी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: ज्ञानवापी सर्वेक्षण संबंधी आदेश पर कांग्रेस ने कहा, सभी धर्म स्थलों पर यथास्थिति बरकरार रहे

गौरतलब है कि उदयपुर में होने वाले कांग्रेस के 'चिंतन शिविर' से पहले हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने किसान नेता राकेश टिकैत और योगेंद्र यादव से मुलाकात की थी। बताया गया कि कृषि क्षेत्र के अजेंडे को लेकर उन्होंने किसान नेता से मुलाकात की। हालांकि इस बैठक को लेकर कई तरह की  चर्चाएं शुरू हो गई। हुड्डा को शिविर में कृषि क्षेत्र का कन्वेनर बनाया गया है और उनसे एक कृषि क्षेत्र का अजेंडा ड्राफ्ट करने को कहा गया है।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...