भारत जोड़ी यात्रा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने त्रिशूर में गैस सिलेंडर के कटआउट का विरोध किया

Bharat Jodo Yatra
प्रतिरूप फोटो
ANI
गांधी ने कहा, ‘केरल का विचार क्या है? जब मैं इन सड़कों पर चल रहा हूं तो दोनों तरफ लोग जुट रहे हैं। कोई हिंदू, मुस्लिम या सिख नहीं है। सभी एक जैसे ही हैं। कोई भी व्यक्ति दूसरे का अनादर नहीं कर रहा है।’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने देश में ईंधन और रसोई गैस की बढ़ती कीमतों को लेकर रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर हमला किया। गांधी के नेतृत्व में रविवार को ‘भारत जोड़ो यात्रा’ केरल के त्रिशूर से होकर गुजरी और चेरुथुरुथी में संपन्न हुई। गांधी ने लगभग 11.5 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। कांग्रेस नेता ने कहा कि भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आरएसएस ‘‘केरल के विचार’’ पर हमला कर रहे हैं।

गांधी ने कहा, ‘‘केरल का विचार क्या है? जब मैं इन सड़कों पर चल रहा हूं तो दोनों तरफ लोग जुट रहे हैं। कोई हिंदू, मुस्लिम या सिख नहीं है। सभी एक जैसे ही हैं। कोई भी व्यक्ति दूसरे का अनादर नहीं कर रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर कोई हिंदू महिला गिरती है, तो मुस्लिम या ईसाई भाई उसकी मदद करता है। अगर कोई मुस्लिम बच्चा गिरता है, तो एक हिंदू या ईसाई उसे उठा लेता है। यह केरल का विचार है।’’ पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि केरल का विचार समाज सुधारक श्री नारायण गुरु ने सिखाया था।

गांधी ने कहा, ‘‘हालांकि, आरएसएस यहां आता है, गुरुजी के बारे में बात करता है, लेकिन बाद में वे उनके विचारों का अपमान और हमला करते हैं। इस देश में सबके साथ समान व्यवहार किया जाता है। यह नारायण गुरु जैसे महान समाज सुधारकों द्वारा दिया गया एक विचार था। आरएसएस केरल पर हमला करता है क्योंकि वे उन कुछ लोगों के लिए काम करते हैं जो भारत का मालिक बनना चाहते हैं।’’ गांधी ने त्रिशूर जिले के थिरूर से यात्रा फिर से शुरू की।

यात्रा में उनके साथ शामिल सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने रसोई गैस की कीमत में वृद्धि के खिलाफ गैस सिलेंडर के आकार के कटआउट और बैनर के साथ प्रदर्शन किया। यात्रा के तहत सुबह के सत्र में मुरलीधरन, के सी वेणुगोपाल, रमेश चेन्नीथला और वी डी सतीशन सहित कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता राहुल गांधी के साथ पदयात्रा में शामिल हुए। रविवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गैस सिलेंडर के आकार के कटआउट लेकर यात्रा शुरू की। उनके हाथों में तख्तियां भी थीं, जिसपर देश में रसोई गैस की कीमतों में भारी वृद्धि को उजागर किया गया था।

वडक्कांचेरी में सुबह का सत्र समाप्त होने के बाद राहुल गांधी हेलीकॉप्टर के जरिये नीलंबुर में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिवंगत आर्यदन मोहम्मद के आवास पर गए और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री मोहम्मद का रविवार को कोष्षिकोड के एक निजी अस्पताल में 87 साल की उम्र में निधन हो गया। गांधी ने कहा कि मोहम्मद कांग्रेस के स्तंभ थे और उनके निधन से पार्टी को बड़ी क्षति हुई है। उन्होंने मीडिया से कहा, ‘‘वह कांग्रेस के स्तंभ, जमीनी पार्टी कार्यकर्ता और शानदार नेता के साथ-साथ अच्छे इंसान थे। उनका निधन हमारे लिए बड़ी क्षति और त्रासदी है। वह मेरे लिए पथप्रदर्शक और बड़े भाई थे। यह मेरे लिए निजी क्षति है।’’

राहुल गांधी ने देश में ईंधन और रसोई गैस की कीमतों में भारी वृद्धि को लेकर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला किया था। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि भाजपा और आरएसएस मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए हिंसा और नफरत फैला रहे हैं। त्रिशूर में लोगों को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा था, ‘‘जब संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की सरकार थी, तब गैस सिलेंडर की कीमत 400 रुपये थी। उस समय प्रधानमंत्री गैस सिलेंडर की कीमत 400 रुपये होने की शिकायत करते थे, लेकिन आज गैस सिलेंडर एक हजार रुपये का होने पर वह एक शब्द भी नहीं बोलते।’’

कांग्रेस ने रविवार को लोगों से अपील की कि वे इस ‘‘ऐतिहासिक आंदोलन में शामिल हों, जो मजबूत और आत्मनिर्भर भारत के पुनर्निर्माण के लिए है।’’ गौरतलब है कि कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ 150 दिनों में 3,570 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। यह यात्रा सात सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी और जम्मू-कश्मीर में समाप्त होगी। यात्रा 10 सितंबर की शाम केरल में दाखिल हुई और 19 दिनों में 450 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए एक अक्टूबर को कर्नाटक में प्रवेश करेगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़