मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में कांग्रेसियों ने ली भाजपा की सदस्यता, माना जाता है कमलनाथ का गढ़

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में कांग्रेसियों ने ली भाजपा की सदस्यता, माना जाता है कमलनाथ का गढ़

भाजपा जिला अध्यक्ष विवेक साहू का कहना है कि बृजमोहन यदुवंशी ने उपेक्षित होकर पार्टी की सदस्यता छोड़ी है। हालांकि इन्होंने पार्टी आलाकमान तक अपनी बात रखने का प्रयास किया, लेकिन वहां कोई भी सुनवायी नहीं होने की वजह से इन्होंने अपने साथियों के साथ कांग्रेस छोड़कर भाजपा की सदस्यता ली है।

छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वर्तमान  में प्रदेश काँग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के गृह जिले छिंदवाड़ा में काँग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है। बुधवार को जब अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए भूमिपूजन चल रहा था और छिंदवाड़ा के भाजपा कार्यालय में भी भूमिपूजन को लेकर पूजन अर्चन के साथ हर्षोउल्लास का माहौल था तभी काँग्रेस छोड़कर आए स्थानीय नेता ब्रजमोहन यदुवंशी ने अपने सैकड़ो समर्थकों सहित भाजपा की सदस्यता ले ली। जिसके बाद जिला भाजपा कार्यालय में काँग्रेसी कार्यकर्ताओं के पार्टी की सदस्यता लेने से श्रीराम भूमिपूजन के साथ ही खुशी दुगनी हो गई। इस मौके पर छिंदवाड़ा भाजपा जिला अध्यक्ष विवेक साहू बंटी सहित नत्थन शाह, कन्हैराम रघुवंशी, विजय झांझरी, अनुज पाटकर  और वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

इसे भी पढ़ें: पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने किया गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा का धन्यवाद

सूत्रों की माने तो भले ही काँग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ पार्टी की डूबती नैया को राम भगवान के नाम पर चलाने की भरसक कोशिश कर रहे हो, लेकिन उनक़ा यह आईडिया अब उनके गृह जिले  के कांग्रेसियो को ही रास नहीं आ रहा है। हनुमान भक्त कहे जाने वाले प्रदेश काँग्रेस अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और उनके सांसद पुत्र नकुल नाथ को छिंदवाड़ा से चुनाव जीतने में पसीना आ गया था। वही प्रदेश में काँग्रेस की सरकार जाने के बाद से जहां काँग्रेस के विधयकों का भाजपा में शामिल होने का सिलसिला जारी है। वही अब स्थानीय काँग्रेस कार्यकर्ताओं का भी पार्टी से मोह भंग होता जा रहा है।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश कांग्रेस राम मंदिर निर्माण के लिए चांदी की 11 ईंट भेजेगी: कमलनाथ

छिंदवाड़ा में काँग्रेस के स्थानीय नेता ब्रजमोहन यदुवंशी सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं के काँग्रेस छोड़ भाजपा की सदस्यता लेने के बाद भाजपा जिला अध्यक्ष विवेक साहू का कहना है कि बृजमोहन यदुवंशी ने उपेक्षित होकर पार्टी की सदस्यता छोड़ी है। हालांकि इन्होंने पार्टी आलाकमान तक अपनी बात रखने का प्रयास किया, लेकिन वहां कोई भी सुनवायी नहीं होने की वजह से इन्होंने अपने साथियों के साथ कांग्रेस छोड़कर भाजपा की सदस्यता ली है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।