अमेरिका के साथ आर्थिक साझेदारी का विस्तार करने के लिए तैयार है भारत: गोयल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 30, 2021   07:08
अमेरिका के साथ आर्थिक साझेदारी का विस्तार करने के लिए तैयार है भारत: गोयल
प्रतिरूप फोटो

‘अमेरिका भारत रणनीतिक साझेदारी मंच’ (यूएसआईएसपीएफ) के चौथे वार्षिक शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए गोयल ने कहा कि, मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि आप भी अपने प्रशासन को समझाएं कि भारत पारस्परिकता और समानता की भावना से अपनी आर्थिक साझेदारी का विस्तार करने के लिए तैयार है और इच्छुक हैं।

नयी दिल्ली, 29 सितंबर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि भारत और अमेरिका को बड़े तरीके से भागीदार बनना चाहिए तथा नयी दिल्ली अमेरिका के साथ आर्थिक साझेदारी का विस्तार करने के लिए तैयार और इच्छुक है।

गोयल ने अगले 10 वर्षों में द्विपक्षीय व्यापार का 1,000 अरब अमेरिकी डॉलर का महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित करने का भी आह्वान किया। ‘अमेरिका भारत रणनीतिक साझेदारी मंच’ (यूएसआईएसपीएफ) के चौथे वार्षिक शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए गोयल ने कहा कि अमेरिका के पिछले प्रशासन के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार समझौते को लेकर बातचीत के लिए बहुत प्रयास किए गए थे, दुर्भाग्य से इसमें कामयाबी नहीं मिली।

इसे भी पढ़ें: अच्छी आर्थिक वृद्धि के लिए देश की भावनाओं को मजबूत रखना जरूरी:यशवंत सिन्हा

मंत्री ने कहा कि भारत ऑस्ट्रेलिया के साथ एक समझौते पर बातचीत कर रहा है, इसलिए अब यह अमेरिका और भारत पर है कि उन्हें बड़े तरीके से भागीदार बनना चाहिए। मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि आप भी अपने प्रशासन को समझाएं कि भारत पारस्परिकता और समानता की भावना से अपनी आर्थिक साझेदारी का विस्तार करने के लिए तैयार है और इच्छुक हैं।

इसे भी पढ़ें: वित्त मंत्रालय अगले सप्ताह मूडीज के साथ बैठक में सॉवरेन रेटिंग में सुधार का आग्रह करेगा





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...