जींद सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए सुरजेवाला समेत उम्मीदवारों ने भरे पर्चे

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 10 2019 7:46PM
जींद सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए सुरजेवाला समेत उम्मीदवारों ने भरे पर्चे

कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला ने जींद विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया।

जींद। हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में कांग्रेस के रणदीप सिंह सुरजेवाला जैसे राजनीतिक दिग्गजों के मैदान में उतरने से यह चुनाव हाई प्रोफाइल बन गया है और नामांकन पत्र दाखिल करने के अंतिम दिन गुरुवार को कांग्रेस प्रत्याशी सहित विभिन्न उम्मीदवारों ने पर्चा दाखिल किया। जींद उपचुनाव के लिये गुरुवार नामांकन पत्र दाखिल करने का अंतिम दिन था। ऐसे में भाजपा, कांग्रेस, जेजेपी तथा इनेलो के उम्मीदवारों ने दल-बल के साथ पहुंचकर अपने-अपने नामांकन पत्र दाखिल किये।

इसे भी पढ़ें: जींद उपचुनाव में कांग्रेस ने रणदीप सुरजेवाला को बनाया अपना उम्मीदवार

कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला ने नामांकन पत्र दाखिल करने के आखिरी दिन आज पर्चा भरा। इस दौरान कांग्रेस में एकजुटता देखी गयी और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर, कांग्रेस नेता एवं विधायक कुलदीप बिश्रोई, पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी शैलजा, विधायक किरण चौधरी, पूर्व मंत्री आफताब अहमद, पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप शर्मा, पूर्व मंत्री गीता भुक्कल सहित पार्टी के कई दिग्गज मौजूद थे।

सत्तारूढ़ भाजपा की ओर से कृष्ण मिड्ढा ने नामांकन पत्र दाखिल किया। वह इस सीट से इनेलो के दिवंगत विधायक हरिचंद मिड्ढा के पुत्र हैं। इस दौरान उनके साथ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला, राज्य के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा, परिवहन मंत्री कृष्ण पंवार, मंत्री नायब सैनी, सांसद रमेश कौशिक, सहित भाजपा के कई अन्य नेता एवं पदाधिकारी मौजूद थे। इसी तरह प्रदेश में नवगठित जननायक जनता पार्टी के प्रत्याशी दिग्विजय चौटाला और इंडियन नेशनल लोकदल के उम्मीदवार ने भी पर्चा दाखिल किया।





पर्चा दाखिल करने के दौरान पूरा दिन शहर की सड़कों पर वाहनों का जमावड़ा लगा रहा और जाम की स्थिति बनी रही। हालांकि, जिला प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए थे और जगह-जगह बेरिकेडिंग की हुई थी। इसके बावजूद पूरे दिन प्रत्याशियों, वीआईपी, मंत्रियों और कार्यकर्ताओं की गाडिय़ां गुजरती रहीं। 2014 के विधानसभा चुनाव में इनेलो के डॉ. हरिचंद मिड‌्ढा ने इस सीट से चुनाव जीता था। लंबी बीमारी के चलते पिछले साल 26 अगस्त को उनका निधन हो गया था जिसकी वजह से यहां उपचुनाव हो रहा है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


Related Story

Related Video