संविधान दिवस के मौके पर जेपी नड्डा ने बाबासाहेब को दी श्रद्धंजलि, कही यह अहम बात

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2020   12:28
संविधान दिवस के मौके पर जेपी नड्डा ने बाबासाहेब को दी श्रद्धंजलि, कही यह अहम बात

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कि भाजपा की बाबासाहेब के विचारों के प्रति कटिबद्धता के कारण ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने उनकी याद में भव्य पंचतीर्थ का निर्माण कर उन्हें विशिष्ट सम्मान दिया।

नयी दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने संविधान दिवस के अवसर पर बृहस्पतिवार को बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव आम्बेडकर को श्रद्धंजलि अर्पित की और कहा कि भाजपा की सरकारें उनकी अपेक्षा के अनुरूप समता मूलक समाज के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट कर देशवासियों को संविधान दिवस की शुभकामनाएं भी दी। नड्डा ने कहा, ‘‘भाजपा की बाबासाहेब के विचारों के प्रति कटिबद्धता के कारण ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने उनकी याद में भव्य पंचतीर्थ का निर्माण कर उन्हें विशिष्ट सम्मान दिया। भाजपा सरकार उनकी अपेक्षा के अनुरूप समता मूलक समाज के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध है।’’ उन्होंने देश को एक सुदृढ़ संविधान देने वाले आम्बेडकर को नमन किया और कहा कि एक निष्ठ कर्मयोगी के रूप में उन्होंने संविधान द्वारा भारतीय समाज को परिवर्तित करने का अद्वितीय कार्य किया। 

इसे भी पढ़ें: शाह ने बाबासाहेब को किया नमन, बोले- सरकार संविधान के अनुरूप हर वर्ग को न्याय दिलाने के प्रति संकल्पित है 

उन्होंने कहा, ‘‘उनका कर्मयोग, संघर्ष व सुधारवाद सभी के लिए प्रेरणास्पद है। विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र को एकता के सूत्र में पिरोने वाले ग्रन्थ को समर्पित संविधान दिवस की समस्त देशवासियों को शुभकामनाएं। संविधान में हमारे जीवन, मूल्य, व्यवहार एवं परंपरा का समावेश है और इसकी मजबूती के कारण ही हम एक भारत- श्रेष्ठ भारत की ओर अग्रसर हैं।’’ देश में आज संविधान दिवस मनाया जा रहा है। यह दिन देशभर में राष्ट्रीय कानून दिवस के रूप में भी जाना जाता है और देश में संविधान को अपनाये जाने का स्मरण कराता है। देश की संविधान सभा ने 26 नवंबर 1949 को वर्तमान संविधान को विधिवत रूप से अंगीकार किया था, जिसे 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया। सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने वर्ष 2015 में 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाने के सरकार के निर्णय को अधिसूचित किया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।