कपिल सिब्बल बोले- न्यायिक सेवा को भी आवश्यक सेवा बनाए न्यायपालिका

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 25, 2020   15:13
कपिल सिब्बल बोले- न्यायिक सेवा को भी आवश्यक सेवा बनाए न्यायपालिका

न्यायपालिका से आग्रह करूंगा कि आप यह निर्णय करिये कि न्याय देना एक जरूरी सेवा है। आप देश के सामने एक योजना रखिये कि इसे जरूरी सेवा के रूप में कैसे आगे ले जाना है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने शनिवार को कहा कि लॉकडाउन (बंद) के दौरान न्यायपालिका को न्यायिक सेवा को आवश्यक सेवा बनाना चाहिए। वरिष्ठ वकील सिब्बल के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान कानूनी सेवाओं को लेकर लोगों को दिक्कत हो रही है।

उन्होंने वीडियो लिंक के माध्यम से संवाददाताओं से बातचीत में सवाल किया, ‘‘न्यापालिका से पूछना चाहता हूं कि क्या न्यायिक सेवा जरूरी सेवा नहीं है?’’ कांग्रेस नेता के मुताबिक इस बारे में फैसला सरकार नहीं कर सकती क्योंकि न्यायपालिका स्वतंत्र है। सिब्बल ने कहा कि न्यायपालिका से आग्रह करूंगा कि आप यह निर्णय करिये कि न्याय देना एक जरूरी सेवा है। आप देश के सामने एक योजना रखिये कि इसे जरूरी सेवा के रूप में कैसे आगे ले जाना है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।