राहुल गांधी के पत्र पर बोले कर्नाटक के सीएम बोम्मई- हाथी के घायल बच्चे की मदद का उपाय करेंगे

Bommai
ANI
कर्नाटक के नागरहोले बाघ अभयारण्य में ‘गंभीर रूप से घायल’ हाथी के बच्चे को वक्त पर इलाज उपलब्ध कराने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा लिखे गए पत्र पर मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह इस मामले में वन विभाग के अधिकारियों से बात करेंगे।

बेंगलुरु। कर्नाटक के नागरहोले बाघ अभयारण्य में ‘गंभीर रूप से घायल’ हाथी के बच्चे को वक्त पर इलाज उपलब्ध कराने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा लिखे गए पत्र पर मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह इस मामले में वन विभाग के अधिकारियों से बात करेंगे। बोम्मई ने कहा, “ मैं अभी बेंगलुरु आया हूं। आंधे घंटे में, मैं सभी विवरण लूंगा। वरिष्ठ वन अधिकारियों से बात करूंगा और देखूंगा कि हाथियों के लिए तुरंत क्या किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: CBI Operation Chakra | सीबीआई के ‘ऑपरेशन चक्र’ के तहत 26 साइबर अपराधी गिरफ्तार

वह (हाथियों का) प्राकृतिक निवास स्थान है। मानव हस्तक्षेप किस हद तक हो सकता है (इस पर गौर किया जाएगा) और यह सत्यापित किया जाएगा कि उपचार कैसे दिया जा सकता है और यह उपलब्ध कराया जाएगा।” मैसुरु से लौटने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा, “ उन्होंने (राहुल गांधी ने) जो मुद्दा उठाया है, उसपर मैं जवाब दूंगा। यह मानवीय आधार पर करने की जरूरत है और यह किया जाएगा।’’

इसे भी पढ़ें: बिग बॉस के घर से निकल कर अब ये कपल करने जा रहा है शादी? रोमांटिक तस्वीर के साथ शेयर की खास तारीख

राहुल गांधी ने बुधवार को बोम्मई को पत्र लिखकर नागरहोले बाघ अभयारण्य में हाथी के गंभीर रूप से घायल बच्चे को वक्त पर इलाज उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री से हस्तक्षेप करने का आग्रह किया था। उन्होंने कहा था कि अपनी मां और कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी के साथ अभयारण्य के दौरे पर उन्हें हाथी के घायल बच्चे के बारे में पता चला। नागरहोले मैसुरु और कोडागू में फैला हुआ है। सोनिया और राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा के सिलसिले में राज्य में हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़