कश्मीरी शख्स को कमरा नहीं देना दिल्ली के इस होटल को पड़ा भारी, पुलिस और OYO ने लिया बड़ा एक्शन

कश्मीरी शख्स को कमरा नहीं देना दिल्ली के इस होटल को पड़ा भारी, पुलिस और OYO ने लिया बड़ा एक्शन

दिल्ली पुलिस ने होटल के खिलाफ व्यक्ति को आवास से वंचित करने और इसके लिए उन्हें दोषी ठहराने का मामला दर्ज किया है। बता दें कि, घटना बुधवार को होटल प्लेजेंट इन में हुई, जहां एक कश्मीरी शख्स ने ऑनलाइन बुक किए गए होटल में चेक इन करने से मना कर दिया था।

जम्मू-कश्मीर के एक शख्स को दिल्ली के जहांगीरपुरी के एक ओयो होटल में रहने से मना कर दिया गया, जिसमें होटल कर्मचारियों ने पुलिस के आदेश का हवाला देते हुए कहा कि किसी भी कश्मीरी शख्स को होटल में कमरा देने से मना किया हुआ है। इसी को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने होटल के खिलाफ व्यक्ति को आवास से वंचित करने और इसके लिए उन्हें दोषी ठहराने का मामला दर्ज किया है। बता दें कि, घटना बुधवार को होटल प्लेजेंट इन में हुई, जहां एक कश्मीरी शख्स ने ऑनलाइन होटल बुक किय़ा था और उसे होटल वाले चेक इन करने से मना कर देते है। इसका एक वीडिया भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

इसे भी पढ़ें: राज्यसभा सदस्य बनने के लिए कांग्रेस में खड़ा हुआ बवाल, अब सोनिया गांधी से मुलाकात करने दिल्ली पहुंचे अजय सिंह

कश्मीरी शख्स ने इस पूरी घटना को अपने मोबाइल में कैद किया जो कि अब तेजी से वायरल भी हो रहा है। वीडियो में शख्स कह रहा है कि, मैंने ओयो होटल्स के साथ कमरा बुक किया। आप मेरा आधार कार्ड स्वीकार क्यों नहीं कर रहे हैं? मैं पासपोर्ट जैसी अन्य आईडी दे सकता हूं। इस पर काउंटर पर मौजूद महिला जवाब देती है, सर, पासपोर्ट कहां का है? फिर शख्स कहता है कि मैं कश्मीर से हुं और मेरी आईडी क्यों स्वीकार नहीं कर रहे हैं। जब वह होटल की रिसेप्शनेस्टि से कारण बताने के लिए कहता है, तो वह कहती है, हमें पुलिस ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर आईडी वाले किसी को भी होटल में रहने की अनुमति न दें।" फैसल नाम के कश्मीरी शख्स ने एक मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि, उन्हें दूसरे होटल में कमरा मिल गया है। मैं कोई कार्रवाई नहीं करना चाहता। वहाँ खड़े होना और पूछना अपमानजनक था। एक कमरे के लिए उमके पास कोई कारण नहीं था और पुलिस का नाम लेते रहते है। मैं अक्सर काम के लिए पूरे उत्तर भारत में यात्रा करता हूं और ऐसा पहली बार हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: दूसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने योगी आदित्यनाथ, केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक ने ली डिप्टी सीएम पद की शपथ

ओयो ने एक बयान में कहा कि, हमने होटल को तुरंत अपने प्लेटफॉर्म से हटा लिया है। हमारे कमरे और दिल हमेशा सबके लिए खुले हैं। यह ऐसा कुछ नहीं है जिस पर हम कभी भी समझौता करेंगे। हम निश्चित रूप से जांच करेंगे कि होटल ने चेक-इन से इनकार करने के लिए क्यों मजबूर किया। बता दें कि, पुलिस ने होटल पर आईपीसी की धारा 153 बी (1)  के तहत मामला दर्ज किया है। डीसीपी (नॉर्थवेस्ट) उषा रंगनानी ने कहा कि, वीडियो में कर्मचारियों को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वे बुकिंग रद्द कर रहे हैं क्योंकि पुलिस ने उन्हें निर्देश दिया था। हमने ऐसा कोई निर्देश नहीं दिया है। यह बिल्कुल झूठ है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...