कोरोना वायरस के मद्देनजर पुडुचेरी में नये वर्ष के आयोजनों के खिलाफ किरन बेदी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 31, 2020   09:34
कोरोना वायरस के मद्देनजर पुडुचेरी में नये वर्ष के आयोजनों के खिलाफ किरन बेदी

मुख्यमंत्री ने कहा कि नये साल का जश्न बीच रोड पर,रेस्तराओं एवं होटलों में आयोजित होगा। उन्होंने कहा कि राज्य आपदा प्रबंधन अथॉरिटी के निर्णय के अनुरूप बेहद सख्ती के बीच इसका आयोजन किया जायेगा।

पुडुचेरी। नये वर्ष के स्वागत से जुड़े कार्यक्रमों को अनुमति देने के कांग्रेस सरकार के फैसले के खिलाफ जाते हुये पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरन बेदी ने बुधवार को लोगों से अपील कि वह घरों में रह कर 2021 का स्वागत करें और सार्वजिनक स्थानों पर जमा होकर कोरोना वायरस के सुपर स्प्रेडर बनने से बचें। मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने हालांकि, जोर देकर कहा कि होटलोंएवं बीच पर नये साल के जश्न का आयोजन कोविड-19 सुरक्षा के नियमों का सख्ती से पालन करते हुये किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पुडुचेरी की फ्रांसीसी संस्कृति को इस तरह के समारोहों के साथ जोड़ा गया था। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि नये साल का जश्न बीच रोड पर,रेस्तराओं एवं होटलों में आयोजित होगा। उन्होंने कहा कि राज्य आपदा प्रबंधन अथॉरिटी के निर्णय के अनुरूप बेहद सख्ती के बीच इसका आयोजन किया जायेगा। संघ शासित क्षेत्र दरअसल पहले फ्रांस का उपनिवेश था, जहां पूरे साल बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं खास तौर से नये साल की पूर्व संध्या पर आयोजित होने वाले समारोहों के लिये। इस बीच बेदी ने एक संदेश में कहा है कि यह बहुत अच्छा और सुरक्षित होगा कि लोग घर में ही रह कर नये साल का स्वागत करें और दूसरों को प्रभावित नहीं होने दें। भारतीय पुलिस सेवा की पूर्व अधिकारी रह चुकी किरन बेदी ने कहा कि गृह मंत्रालय कह चुका है कि नये साल के जश्न में बड़ी संख्या में लोगों का एकत्र होना और जमा होना कोरोना वायरस के बड़े स्तर पर प्रसार का कारण बन सकता।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।