UP में 40 फीसदी महिलाओं को टिकट देने वाली कांग्रेस पंजाब में क्यों रह गई पीछे ? दूसरे दलों का भी रहा यही हाल

punjab
प्रतिरूप फोटो
पंजाब में कांग्रेस ने 109 उम्मीदवारों का ऐलान किया है। जिनमें से करीब 10 फीसदी महिलाओं को टिकट दी है। कांग्रेस ही नहीं बल्कि सभी पार्टियों का यही हाल है। पंजाब में तकरीबन आधी महिला मतदाता हैं लेकिन उम्मीदवारी के नाम पर उन पर किसी भी पार्टी ने भरोसा जताना सही नहीं समझा।

नयी दिल्ली। उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव की जैसे-जैसे तारीखें पास आती जा रही हैं ठीक वैसे ही सियासत गर्माती जा रही है। इस बार तमाम राजनीतिक दलों ने महिलाओं को लुभाने की भी भरपूर कोशिश की है। कांग्रेस ने तो उत्तर प्रदेश में यहां तक ऐलान कर दिया कि वो 40 फीसदी महिलाओं को टिकट देगी। इसके लिए महिला उम्मीदवारों को भी तलाशा गया और टिकट बंटवारे में महिला उम्मीदवार दिखाई भी दीं। जिसके चलते दूसरे दलों ने भी महिलाओं पर ध्यान केंद्रित करना शुरू किया। हालांकि उत्तर प्रदेश में 40 फीसदी महिलाओं को टिकट देने की बात करने वाली कांग्रेस के दावे पंजाब में हवा हवाई साबित हुए। 

इसे भी पढ़ें: अमृतसर ईस्ट सीट से सिद्धू ने भरा नामांकन, बिक्रम मजीठिया को दी यह चुनौती 

पंजाब में कांग्रेस ने 109 उम्मीदवारों का ऐलान किया है। जिनमें से करीब 10 फीसदी महिलाओं को टिकट दी है। कांग्रेस ही नहीं बल्कि सभी पार्टियों का यही हाल है। पंजाब में तकरीबन आधी महिला मतदाता हैं लेकिन उम्मीदवारी के नाम पर उन पर किसी भी पार्टी ने भरोसा जताना सही नहीं समझा। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन के 117 उम्मीदवारों में केवल पांच महिला उम्मीदवार हैं। जिनमें से 97 सीटों पर चुनाव लड़ रही शिअद की 4 और 20 सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान करने वाली मायावती की पार्टी की एक महिला उम्मीदवार है।

कांग्रेस की बात जाए तो उत्तर प्रदेश में महिला कार्ड खेलते हुए 40 फीसदी महिलाओं को टिकट देने की बात कही और लड़की हूं लड़ सकती हूं कैंपेन भी शुरू किया लेकिन पंजाब आते ही स्थिति बदल गई। पंजाब में पार्टी ने अब तक 109 उम्मीदवारों का ऐलान किया है। जिनमें से 11 महिला उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है। 

इसे भी पढ़ें: चुनाव से पहले किसान संगठन फिर बढ़ाएंगे भाजपा की मुश्किलें, 31 जनवरी को मनाया जाएगा विश्वासघात दिवस 

वहीं आम आदमी पार्टी का भी यही हाल है। खुद को ईमानदार बताने वाली आम आदमी पार्टी ने 18 साल से ज्यादा ही हर महिला को 1000 रुपए देने का ऐलान तो किया लेकिन सिर्फ 12 महिलाओं को ही टिकट दिया है। यह करीब 10 फीसदी है। इसके अलावा कैप्टन अमरिंदर सिंह की पंजाब लोक कांग्रेस और भाजपा के नेतृत्व वाले गठबंधन ने 106 उम्मीदवारों का ऐलान किया है। जिसमें महज 8 महिलाएं ही शामिल हैं। जो 7.5 फीसदी ही है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़