राफेल की तरह ही भारत के खिलाफ एक अपराध है नोटबंदी: राहुल गांधी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2018   08:17
राफेल की तरह ही भारत के खिलाफ एक अपराध है नोटबंदी: राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को आरोप लगाया कि नोटबंदी राफेल सौदे की तरह भारत के खिलाफ अपराध और एक बड़ा घोटाला है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को आरोप लगाया कि नोटबंदी राफेल सौदे की तरह भारत के खिलाफ अपराध और एक बड़ा घोटाला है। उन्होंने कहा कि जांच कराकर दोषियों को दंडित किया जाना चाहिए। कांग्रेस प्रमुख ने यह भी सवाल उठाया कि जब पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन नोटबंदी के फैसले से ‘‘असहमत’’ थे तो उन्होंने इस्तीफा क्यों नहीं दिया। उन्होंने कहा कि राफेल सौदे में पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने भी ऐसा ही किया था।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी का कांग्रेस पर हमला, कहा- राजस्थान में कामदर बनाम नामदार की लड़ाई

उन्होंने ट्वीटर पर कहा, ‘राफेल (सौदे) की तरह नोटबंदी भारत के खिलाफ एक अपराध और एक बड़ा घोटाला था। पर्रिकर ने अपनी खाल बचाने के लिए राफेल से दूरी बनाये रखी। श्री सुब्रमण्यन नोटबंदी के मामले में ऐसा ही कर रहे हैं। मुझे आश्चर्य है कि क्यों उन्होंने इस्तीफा नहीं दिया जब वह इतने असहमत थे? चिंता मत करो भारत, दोषियों का पता लगाकर उन्हें दंडित किया जाएगा।’

इसे भी पढ़ें: राहुल ने मोदी पर साधा निशाना, कहा- PM ने अपने सभी वादे तोड़ दिए

इससे पूर्व हिन्दी में किये एक अन्य ट्वीट में गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अच्छे दिन के वादे पर निशाना साधा और एक स्थानीय राजस्थानी द्वारा गाये गये एक गीत को टैग किया। उन्होंने हिंदी में किये अपने ट्वीट में कहा, ‘राजस्थान के इस सज्जन ने देश के दिल की बात कह दी है। सुनिए, गाना ज़ुबान पर चढ़ जाएगा।’ राजस्थान के इस सज्जन ने अपने गीत में मोदी के ‘अच्छे दिन’ के वादे पर निशाना साधते हुए कहा कि देश उनके लिए अभी इंतजार कर रहा है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।