• कर्नाटक में लॉकडाउन की पाबंदियों में दी जाएंगी? येदियुरप्पा सरकार 19 जून को करेगी फैसला

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू की गयीं लॉकडाउन संबंधी पाबंदियों में और ढील दिए जाने का फैसला शनिवार को किया जाएगा।

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू की गयीं लॉकडाउन संबंधी पाबंदियों में और ढील दिए जाने का फैसला शनिवार को किया जाएगा। मौजूदा पाबंदियां 21 जून तक लागू रहेंगी। येदियुरप्पा ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘ राज्य में कोविड-19 की स्थिति में सुधार हो रहा है। भविष्य में तीसरी लहर के आने की आशंका भी जताई जा रही है, लेकिन इसके बावजूद हमें पाबंदियों में कुछ ढील देनी होगी। इस संबंध में हम कल शाम एक बैठक करेंगे और फैसला लेंगे। ’’

इसे भी पढ़ें: साउथम्पटन के मौसम को लेकर यूजर्स ले रहे मजा, कहा- चेल्लम सर ही बता सकते हैं, कब रुकेगी बारिश

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, सरकार उन 11 जिलों में पाबंदियों में छूट देने की घोषणा कर सकती है जहां लॉकडाउन लागू है। इसके अलावा शेष 19 जिलों में लोगों के आने-जाने में छूट और व्यापारिक प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति 21 जून के बाद दी जाएगी। सरकार ने पिछले सप्ताह 11 ऐसे जिलों में लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की थी जहां संक्रमण की दर अधिक है। इन जिलों में लोगों को सुबह छह बजे से 10 बजे तक आवश्यक सामानों को खरीदने की अनुमति होगी।

इसे भी पढ़ें: पार्टी संविधान के तहत हुआ चुनाव, चिराग पासवान अब लोजपा के अध्यक्ष नहीं: पशुपति पारस

जिन 11 जिलों में सख्त लॉकडाउन जारी है, वे हैं चिकमगलूर, शिवमोगा, दावणगेरे, मैसूर, चामराजनगर, हासन, दक्षिण कन्नड़, बेंगलुरु ग्रामीण, मांड्या, बेलागवी और कोडागु। इस बीच, मुख्यमंत्री ने आज कुछ मंत्रियों तथा अधिकारियों के साथ राज्य में मानसून के मद्देनजर बाढ़ की स्थिति में उठाए जाने वाले एहतियाती उपायों पर चर्चा की। येदियुरप्पा ने कहा कि महाराष्ट्र के सिंचाई मंत्री शनिवार को उनसे मुलाकात करेंगे। दरअसल, महाराष्ट्र में भारी बारिश के दौरान बांधों से अतिरिक्त पानी छोड़े जाने के कारण आम तौर पर कर्नाटक के सीमावर्ती जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो जाती है।