• ममता बनर्जी ने नामांकन पत्र में छुपाई जानकारी? बीजेपी ने जताई आपत्ति

अभिनय आकाश  Sep 14, 2021 12:52

भावनीपुर से बीजेपी उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल के चीफ इलेक्शन एजेंट और बीजेपी नेता सजल घोष ने का आरोप है कि ममता बनर्जी ने नामांकन पत्र में आपराधिक मामलों से संबंधित जानकारी का उल्लेख नहीं किया है। उनके पर 6 केस दर्ज हैं जिनका उन्होंने नामांकन पत्र में जिक्र नहीं किया। इनमें से 5 केस 2018 में असम में दर्ज किए गए थे।

भवानीपुर की जंग में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममत बनर्जी को चुनौती देने के लिए बीजेपी की तरफ से प्रियंका टिबरेवाल को मैदान में उतारा है। प्रियंका ने अपना नामांकन बीते दिनों दाखिल किया। इसके साथ ही बीजेपी की तरफ से अलीपुर से भवानीपुर तक एक रोड शो भी किया गया।वहीं विधानसभा चुनाव में अपनी सीट छोड़ नंदीग्राम से चुनाव लड़ने वाली ममता को बंगाल विधानसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन अब ममता के लिए सीएम बने रहने के लिए ये चुनाव जीतना मजबूरी भी है और साख बचाने के लिए जरूरी भी है। लेकिन ममता बनर्जी के नामांकन को लेकर एक नया विवाद सामने आया है। बीजेपी की तरफ से ममता बनर्जी के नामांकन पर आपत्ति जताई गई है। बीजेपी की ओर से कहा गया है कि ममता बनर्जी ने अपने खिलाफ लंबित मामलों का खुलासा नहीं किया है। 

इसे भी पढ़ें: भवानीपुर उपचुनाव : ममता ने अचानक मस्जिद का दौरा किया, स्थानीय लोगों से बातचीत की

भावनीपुर से बीजेपी उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल के चीफ इलेक्शन एजेंट और बीजेपी नेता सजल घोष ने का आरोप है कि ममता बनर्जी ने नामांकन पत्र में आपराधिक मामलों से संबंधित जानकारी का उल्लेख नहीं किया है। उनके पर 6 केस दर्ज हैं जिनका उन्होंने नामांकन पत्र में जिक्र नहीं किया। इनमें से 5 केस 2018 में असम में दर्ज किए गए थे। वहीं एक अन्य केस सीबीआई के पास लंबित है, लेकिन उन्होंने इन सभी केसों के बारे में जानकारी छुपाई है।