NDA देश के संस्थानों को बर्बाद कर रहा है... तृणमूल देश को बचाएगी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 16, 2018   15:42
NDA देश के संस्थानों को बर्बाद कर रहा है... तृणमूल देश को बचाएगी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र की भाजपा नीत राजग सरकार की शुक्रवार को आलोचना करते हुए आरोप लगाया कि वह सीबीआई और भारतीय रिजर्व बैंक जैसे महत्वपूर्ण भारतीय संस्थानों को बर्बाद कर रही है।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र की भाजपा नीत राजग सरकार की शुक्रवार को आलोचना करते हुए आरोप लगाया कि वह सीबीआई और भारतीय रिजर्व बैंक जैसे महत्वपूर्ण भारतीय संस्थानों को बर्बाद कर रही है। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि पार्टी देश को ऐसी बर्बादी से बचाने में अहम भूमिका निभा सकती है।

उन्होंने यहां पार्टी की एक बैठक में कहा, ‘‘वे (राजग सरकार) संस्थानों को बर्बाद कर रहे हैं। वे आरबीआई और सीबीआई की कार्यप्रणाली बदलने की कोशिश कर रहे हैं। जिस पार्टी ने ‘मूर्तियां बनाने’ को अपना चुनावी एजेंडा बना लिया है, वह आगामी लोकसभा चुनाव के बाद खुद एक मूर्ति बनकर रह जाएगी।’’ बनर्जी ने कहा कि भगवा पार्टी राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एन आर सी) को अद्यतन कर केवल साम्प्रदायिक विभाजन की इच्छुक है। उन्होंने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस ऐसी चीजों को बर्दाश्त नहीं करेगी। पार्टी देश को भाजपा से बचाने के लिए आगामी दिनों में बड़ी भूमिका निभाएगी।’’

बनर्जी ने यहां ब्रिगेड परेड ग्राउंड में जनवरी में महारैली करने का आह्वान किया। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि वह जनवरी में पार्टी की रैली में सभी विपक्षी नेताओं को आमंत्रित करेंगी और भाजपा के खिलाफ लड़ाई के लिए एकजुट करेंगी। उन्होंने कहा, ‘‘रैली में हमारा नारा होगा-भाजपा हटाओ, देश बचाओ।’’राज्य में अगले महीने होने वाली भाजपा की ‘रथ यात्रा’ का जिक्र करते हुए बनर्जी ने कहा, ‘‘भगवा पार्टी राजनीतिक ‘यात्रा’ आयोजित कर रही है। दूसरी ओर हमारे कार्यकर्ता ‘एकता यात्रा’ करेंगे जिसका मकसद सभी समुदायों को एकजुट करना है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।