INLD नेता अजय चौटाला का दावा, मुझे कई विधायकों का समर्थन

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Nov 6 2018 9:33AM
INLD नेता अजय चौटाला का दावा, मुझे कई विधायकों का समर्थन
Image Source: Google

चंडीगढ़। इंडियन नेशनल लोक दल (इनेलो) दो फाड़ होने के कगार पर दिख रहा है। इनेलो के वरिष्ठ नेता अजय सिंह चौटाला सोमवार को पार्टी से निष्कासित अपने बेटों के पक्ष में खुलकर सामने आ गए और दावा किया कि पार्टी के कई मौजूदा तथा पूर्व विधायक उनके समर्थन में हैं। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं इनेलो के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला के बड़े बेटे अजय दो हफ्ते के पैरोल पर दिल्ली की तिहाड़ जेल से रिहा हुए हैं। जेल से रिहाई के बाद अजय ने नयी दिल्ली में अपने बेटे और हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला के सरकारी आवास पर शक्ति प्रदर्शन किया। उन्होंने वहां घोषणा की कि पार्टी किसी की बपौती नहीं है। अजय ने पार्टी से निष्कासित अपने बेटों- दुष्यंत और दिग्विजय- का समर्थन करते हुए अपने छोटे भाई अभय सिंह चौटाला पर परोक्ष हमला किया। इनेलो कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अजय ने कहा, ‘अब हम किसी से कुछ नहीं मांगेंगे। अब लड़ाई होगी। हम चौटाला साहब के सामने ऐसी स्थिति बना देंगे कि वे दुष्यंत को पार्टी में फिर से लेने के लिए मजबूर हो जाएंगे।’ अजय ने अपने पिता के एक भाषण का जिक्र करते हुए कहा, ‘चौटाला साहब कहा करते थे कि किसी को मांगने से कुछ नहीं मिलता, छीनने से मिलता है।’ दुष्यंत और दिग्विजय को अनुशासनहीनता, गुंडागर्दी और पार्टी में टूट कराने के आरोप में पार्टी से निकाल दिया गया है।

चंडीगढ़। इंडियन नेशनल लोक दल (इनेलो) दो फाड़ होने के कगार पर दिख रहा है। इनेलो के वरिष्ठ नेता अजय सिंह चौटाला सोमवार को पार्टी से निष्कासित अपने बेटों के पक्ष में खुलकर सामने आ गए और दावा किया कि पार्टी के कई मौजूदा तथा पूर्व विधायक उनके समर्थन में हैं। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं इनेलो के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला के बड़े बेटे अजय दो हफ्ते के पैरोल पर दिल्ली की तिहाड़ जेल से रिहा हुए हैं।

जेल से रिहाई के बाद अजय ने नयी दिल्ली में अपने बेटे और हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला के सरकारी आवास पर शक्ति प्रदर्शन किया। उन्होंने वहां घोषणा की कि पार्टी किसी की बपौती नहीं है। अजय ने पार्टी से निष्कासित अपने बेटों- दुष्यंत और दिग्विजय- का समर्थन करते हुए अपने छोटे भाई अभय सिंह चौटाला पर परोक्ष हमला किया। इनेलो कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अजय ने कहा, ‘अब हम किसी से कुछ नहीं मांगेंगे। अब लड़ाई होगी। हम चौटाला साहब के सामने ऐसी स्थिति बना देंगे कि वे दुष्यंत को पार्टी में फिर से लेने के लिए मजबूर हो जाएंगे।’

अजय ने अपने पिता के एक भाषण का जिक्र करते हुए कहा, ‘चौटाला साहब कहा करते थे कि किसी को मांगने से कुछ नहीं मिलता, छीनने से मिलता है।’ दुष्यंत और दिग्विजय को अनुशासनहीनता, गुंडागर्दी और पार्टी में टूट कराने के आरोप में पार्टी से निकाल दिया गया है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story