बिहार विधानसभा में हंगामा, हाथ-पैर पकड़कर मार्शलों ने वाम विधायकों को निकाला बाहर, देखें वीडियो

बिहार विधानसभा में हंगामा, हाथ-पैर पकड़कर मार्शलों ने वाम विधायकों को निकाला बाहर, देखें वीडियो
प्रतिरूप फोटो

कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर बिहार विधानसभा में हंगामे के बाद मार्शलों ने वाम विधायकों को निकाला। समाचार एजेंसी एएनआई ने इससे जुड़ा हुआ एक वीडियो साझा किया। जिसमें देखा जा रहा है कि किस तरह से वाम विधायकों को विधानसभा से बाहर निकाला जा रहा है। मार्शलों ने विधायकों के हाथ-पैर पकड़कर उन्हें निकाला है।

पटना। बिहार विधानसभा में लगातार दूसरे दिन कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर हंगामा हुआ। जिसको लेकर मार्शलों द्वारा हंगामा करने वालों को सदन के बाहर निकाला गया। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। इससे एक दिन पहले भी विधानसभा में हंगामा देखने को मिला था। जिसको लेकर मार्शलों ने एआईएमआईएम विधायक अख्तरुल ईमान बाहर निकाला था। 

इसे भी पढ़ें: कानून में ढील के बीच नीतीश कुमार ने विधानसभा में कहा- शराब पीने वाले महापापी 

वाम विधायकों को निकाला गया बाहर

कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर बिहार विधानसभा में हंगामे के बाद मार्शलों ने वाम विधायकों को निकाला। समाचार एजेंसी एएनआई ने इससे जुड़ा हुआ एक वीडियो साझा किया। जिसमें देखा जा रहा है कि किस तरह से वाम विधायकों को विधानसभा से बाहर निकाला जा रहा है। मार्शलों ने विधायकों के हाथ-पैर पकड़कर उन्हें निकाला है और ऐसा लगातार दूसरे दिन हंगामे की वजह से हो रहा है।

इसे भी पढ़ें: बिहार में शराबबंदी कानून में संशोधन, मजिस्‍ट्रेट ने चाहा तो तुरंत छूटेंगे, वर्ना जाएंगे जेल

मार्शलों द्वारा विधायकों को बाहर निकाले जाने के दौरान कुछ विधायक गुंडागर्दी नहीं चलेगी के नारे भी लगा रहे थे। विधायक विरेंद्र गुप्ता ने कहा कि हम लोग राज्य में बिगड़ते क़ानून व्यवस्था पर बहस चाहते थे लेकिन सरकार बहस पर तैयार नहीं थी इसलिए हमको मार्शल से कहकर सदन से बाहर करवा दिया। भाजपा-जदयू की सरकार तमाम कोशिशें कर रही हैं कि हिंदू-मुस्लिम राजनीति से यह सारे मुद्दे ढ़क जाएं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।