मायावती बोलीं- नमो-नमो कहने वालों की होगी छुट्टी तो अखिलेश ने कहा- चौकीदार हटाओ

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 26 2019 4:56PM
मायावती बोलीं- नमो-नमो कहने वालों की होगी छुट्टी तो अखिलेश ने कहा- चौकीदार हटाओ
Image Source: Google

मायावती ने एक चुनावी जनसभा में कि इस बार चुनाव में आप लोग ‘नमो नमो’ करने वालों की छुट्टी करने वाले हैं और ‘जय भीम’ कहने वालों को लाने वाले हैं।

जालौन। बसपा प्रमुख मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस बार के चुनाव में  नमो नमो कहने वालों की छुट्टी हो जाएगी और  चौकीदार  के साथ साथ  ठोंकीदार  को भी हटाना है। मायावती ने यहां एक चुनावी जनसभा में कि इस बार चुनाव में आप लोग ‘नमो नमो’ करने वालों की छुट्टी करने वाले हैं और ‘जय भीम’ कहने वालों को लाने वाले हैं। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद शुरूआत में केन्द्र और देश के अधिकांश राज्यों में सत्ता ज्यादातर कांग्रेस के हाथ में केन्द्रित रही है लेकिन ध्यान देने की बात यह है कि कांग्रेस की लंबे अरसे तक रही सरकार में गलत नीतियों और कार्य प्रणालियों के चलते उसे सत्ता से बाहर होना पड़ा है। संयुक्त जनसभा में अखिलेश ने कहा कि पहले चाय वाला बनकर आये थे हमारे-आपके बीच में... अब चौकीदार बनकर आएंगे। कितना भरोसा करोगे इन पर।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: मोदी गरीबों के नहीं सिर्फ पूंजीपतियों के चौकीदार: मायावती

योगी पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि मुख्यमंत्री विधानसभा में कहते हैं कि कानून व्यवस्था ठीक करनी है तो ठोंक दो। पुलिस को नहीं समझ आता किसे ठोंक दें। वो जनता को ठोंक रही है और जनता को मौका मिलता है तो वह पुलिस को ठोंक रही है। उन्होंने कहा कि संत कबीर नगर में सांसद और विधायक ‘ठोंको नीति’ के तहत एक दूसरे को ठोंकने लगे। चौकीदार के साथ साथ ठोंकीदार को भी हटाने का काम करना है। मायावती ने कांग्रेस को आडे हाथ लेते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस ने सर्व समाज के लोगों विशेषकर समाज के कमजोर, गरीब, बेरोजगारों और मेहनतकश लोगों की उपेक्षा की है। कांग्रेस ने बुंदेलखंड की उपेक्षा की। कांग्रेस के शासनकाल में यहां की गरीबी एवं बेरोजगारी दूर नहीं हुई।

इसे भी पढ़ें: अखिलेश-मायावती की रैली में घुसे सांड का तांडव, सपा ने साधा भाजपा पर निशाना



उन्होंने कहा कि कांग्रेस कहती है कि गरीबी दूर करेंगे लेकिन अगर वास्तव में गरीबी और बेरोजगारी दूर की होती तो कांग्रेस सत्ता से बाहर नहीं होती। कांग्रेस ने अगर सही मायने में सर्व समाज के हितों का पूरा ध्यान रखा होता तो हमें बसपा बनाने की जरूरत नहीं पड़ती। मायावती ने कहा कि इस बार भाजपा भी केन्द्र की सत्ता से बाहर हो जाएगी। भाजपा की कोई नाटकबाजी और जुमलेबाजी काम नहीं आने वाली है। इनकी चौकीदारी की नयी नाटकबाजी भी इनको बचा नहीं पाएगी। बसपा प्रमुख ने कहा कि भाजपा ने पिछले चुनाव में कई वादे किये थे लेकिन सभी खोखले साबित हुए। जनसभा में बसपा प्रमुख मायावती, महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा और मायावती के भतीजे आकाश आनंद भी मौजूद थे।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video