बसपा प्रमुख मायावती ने दी ईद की मुबारकबाद, कोरोना नियमों का पालन करने की दी सलाह

Mayawati congratulated Eid
बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने ईद की मुबारकबाद दी है।उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया कि, ‘‘कोरोना वायरस से बचाव एवं इसकी रोकथाम के लिए माननीय न्यायालयों ने देर से ही सही, लेकिन सराहनीय कदम उठाया।

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने बुधवार को ईद-उल-अजहा की मुबारकबाद दी और कोरोना वायरस की रोकथाम में उच्चतम न्‍यायालय के कदमों की सराहना करते हुए केंद्र और राज्‍य सरकारों से संक्रमण के प्रति गंभीर होकर जनता की भलाई के लिए काम करने की अपील की। बसपा प्रमुख ने बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘ईद अल अजहा की सभी को दिली मुबारकबाद एवं शुभकामनाएं। अपने परिवार एवं पड़ोसियों की सुरक्षा एवं भलाई के लिए जरूरी है कि सभी कोरोना वायरस के नियमों का पूरा पालन करते हुए बिना भीड़भाड़ के ईद मनाएं।’’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया, ‘‘कोरोना वायरस से बचाव एवं इसकी रोकथाम के लिए माननीय न्यायालयों ने देर से ही सही, लेकिन सराहनीय कदम उठाया। अब सभी सरकारें भी कोरोना वायरस के प्रति अति-गंभीर होकर जनता की भलाई का पूरा ध्यान रखें एवं लोग भी टीका जरूर लगवाएं।

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 महामारी को लेकर न राजनीति की और न आंकड़े छिपाए: स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने कोविड-19 की उच्च संक्रमण दर वाले क्षेत्रों में बकरीद के मौके पर केरल सरकार द्वारा पाबंदी में दी गई छूट को मंगलवार को ‘‘पूरी तरह से अनुचित’’ करार दिया और कहा कि व्यापारियों के दबाव के आगे झुकना ‘‘दयनीय स्थिति’’ को दिखाता है। न्यायालय ने केरल सरकार को निर्देश दिया कि वह संविधान के अनुच्छेद 21 (जीवन और व्यक्तिगत स्वतंत्रता का अधिकार) पर ध्यान दे और उत्तर प्रदेश में कांवड़ यात्रा को लेकर दिए गए उसके आदेश के नियमों का अनुपालन करें। उच्चतम न्यायालय ने 16 जुलाई को उत्तर प्रदेश में कांवड़ यात्रा के मामले पर सुनवाई करते हुए टिप्पणी की थी कि धार्मिक सहित सभी भावनाएं जीवन के अधिकार के आगे गौण है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़